Bihar Election: बिहार कांग्रेस मुख्यालय में आयकर का छापा, कांग्रेस बोली हार सामने देख बौखलाई बीजेपी

Income Tax Raid: कांग्रेस दफ्तर के बाहर खड़ी गाड़ी से 8.5 लाख कैश बरामद होने की खबर, कांग्रेस ने पूछा रक्सौल के जिस बीजेपी उम्मीदवार से 22 किलो सोना मिला है, वहां आयकर विभाग कब रेड कर रहा है

Updated: Oct 22, 2020, 10:45 PM IST

Bihar Election: बिहार कांग्रेस मुख्यालय में आयकर का छापा, कांग्रेस बोली हार सामने देख बौखलाई बीजेपी
Photo Courtesy: Navbharat Times

पटना। मोदी सरकार के इनकम टैक्स विभाग ने बिहार कांग्रेस के मुख्यालय सदाकत आश्रम में छापा मारा है। बताया जा रहा है कि छापेमारी की कार्रवाई सदाकत आश्रम के बाहर खड़ी एक गाड़ी में कैश बरामद होने के बाद की जा रही है। उस व्यक्ति को हिरासत में भी लिया गया है, जिसके पास से साढ़े आठ लाख रुपये बरामद होने की बात कही जा रही है। हालांकि अभी तक आयकर विभाग ने आधिकारिक तौर पर यह जानकारी नहीं दी है कि गाड़ी से कितना कैश बरामद हुआ है। 

कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्तिसिंह गोहिल ने कहा कि आयकर विभाग को कांग्रेस के मुख्यालय में कुछ नहीं मिला। उन्होंने बाहर खड़ी एक गाड़ी से कैश बरामद होने की बात कहकर हमारे दफ्तर पर नोटिस चिपका दिया है। फिर भी हमने कहा है कि हम पूरा सहयोग करेंगे क्योंकि हमारे पास कोई काला धन नहीं है, काला धन तो बीजेपी के पास है। गोहिल ने कहा कि बिहार में जेडीयू-भाजपा गठबंधन चुनाव हार रहा है। जब भी वो हार देख लेते हैं तो बौखलाहट में ऐसे तरीके अपनाते हैं, जिनका लोकतंत्र से कोई लेना-देना नहीं होता। गोहिल ने यह सवाल भी पूछा कि रक्सौल में बीजेपी उम्मीदवार के पास से 22 किलो सोना और ढाई किलो चांदी बरामद हुए हैं। लेकिन आयकर विभाग वहां क्यों नहीं जा रहा है?

कल बिहार में राहुल गांधी की रैलियां होनी हैं

गौरतलब है कि बिहार में कल यानी शुक्रवार 23 अक्टूबर को  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की कई रैलियां भी होनी हैं। इनमें नवादा जिले के हिसुआ में सुबह 11 बजे होने वाली रैली और और दोपहर 2 बजे भागलपुर के कहलगांव में होने वाली रैली शामिल है। हालांकि कल ही एक जनसभा के लिए राहुल गांधी के हेलिकॉप्टर को पूर्णिया में उतरने की इजाजत नहीं दी गई है, जिस पर कांग्रेस की सहयोगी पार्टी ने आरजेडी ने तंज़ किया है। आरजेडी ने ट्वीट करके कहा है कि राहुल गांधी के हेलिकॉप्टर को उतरने की इजाजत न देकर बीजेपी-जेडीयू एक असुरक्षित और हताश बच्चे की तरह बर्ताव कर रहे हैं। इनकी ये हालत देखकर हंसी आ रही है। आरजेडी के इस ट्वीट को शक्तिसिंह गोहिल ने री-ट्वीट भी किया है।