किसान आंदोलन में 500 किसानों की मौत, किसान एकता मोर्चा ने कहा- मोदी की बेरहमी ने ली जान

6 महीने से ज्यादा समय से चल रहा किसान आंदोलन, किसान एकता मोर्चा ने कहा- आसान नहीं रह है यह आंदोलन, राहुल गांधी बोले, तिल-तिल मरे हैं किसान

Updated: Jun 09, 2021, 12:36 PM IST

किसान आंदोलन में 500 किसानों की मौत, किसान एकता मोर्चा ने कहा- मोदी की बेरहमी ने ली जान
Photo Courtesy: Twitter

नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। पिछले 6 महीने से ज्यादा समय से देश के किसान दिल्ली बॉर्डर पर बैठे हुए हैं। इसी बीच किसान एकता मोर्चा ने आज बताया है कि आंदोलन के दौरान हुए किसानों की मौत का आंकड़ा बढ़कर 500 हो गया है। 

देश के 500 किसानों की मौत को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि देश की रक्षा के लिए किसानों ने तिल-तिल जान गंवाया है। राहुल गांधी ने ट्वीट किया, 'खेत-देश की रक्षा में, तिल-तिल मरे हैं किसान। पर ना डरे हैं किसान, आज भी खरे हैं किसान।' 

इससे पहले किसान एकता मोर्चा ने आंदोलन के दौरान 500 लोगों की जान जाने की पुष्टि की। किसान एकता मोर्चा ने अपने ट्वीटर हैंडल से ट्वीट किया, 'दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के आंदोलन का 6 महीने पूरे करना आसान नहीं रहा। मोदी सरकार के अहंकारी और बेरहम व्यवहार के कारण 500 कीमती जानें चली गई।' 

किसान एकता मोर्चा ने कहा है कि जबतक हमारी जीत नहीं होती तबतक हम खड़े हैं। केंद्र सरकार हमारी जायज मांगों को पूरा करे। 

आंदोलन के दौरान 500 से अधिक किसानों की मौत की खबर सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर केंद्र के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है। कांग्रेस नेता जितेंद्र बघेल ने ट्वीट किया, 'बचपन में स्कूल की किताबों में पढ़ाया जाता था कि किसान अन्नदाता होता है और उसकी इज़्ज़त करनी चाहिए। लेकिन इस धोखेबाज सरकार ने किसानों की MSP डबल करने का झूठा वादा कर सत्ता हासिल की और बाद में कृषि क़ानून ला कर 500 किसानों की जान ले ली।'