लिव इन पार्टनर ने प्रेमिका के किए 35 टुकड़े, 18 दिन हर रात दो बजे टुकड़ों को ठिकाने लगाया

लिव इन पार्टनर आफताब ने अपनी 26 साल की प्रेमिका श्रद्धा की बेरहमी से हत्या कर दी। उसके शव को आरी से काटा। नया फ्रिज लाया ताकि टुकड़े उसमें रख सके।

Updated: Nov 14, 2022, 04:11 PM IST

लिव इन पार्टनर ने प्रेमिका के किए 35 टुकड़े, 18 दिन हर रात दो बजे टुकड़ों को ठिकाने लगाया

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने सोमवार को एक सनसनीखेज मर्डर मिस्ट्री का खुलासा किया है। 18 मई यानी करीब 6 महीने आफताब पूनावाला नामक एक युवक ने अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा का गला दबाकर हत्या कर दिया। उसने शव के करीब 35 टुकड़े किए। इन टुकड़ों को ठिकाने लगाने के लिए वह हर रात करीब दो बजे जंगल की तरफ जाया करता था। इस तरह उसने 18 दिन में शव को ठिकाने लगाया।

पुलिस ने आफताब को शनिवार को अरेस्ट किया। शुरू में उसने श्रद्धा के संबंध में कोई जानकारी होने से इनकार कर दिया। लेकिन कड़ाई से पूछने पर उसने श्रद्धा की हत्या की सनसनीखेज कहानी बताई। कोर्ट ने आफताब को 5 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।

यह भी पढ़ें: कीड़े में विटामिन होता है, चुपचाप खा लो, मिड-डे-मील में कीड़े की शिकायत पर प्रिंसिपल का जवाब

दरअसल, श्रद्धा और आफताब दोनों कॉल सेंटर में काम करते थे। साल 2019 में यहीं दोनों की मुलाकात हुई थी। दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे। लेकिन दोनों के रिश्तों से उनके परिजन नाखुश थे। इसके चलते दोनों मुंबई से दिल्ली शिफ्ट हो गए और महरौली के एक फ्लैट में लिव इन में रहने लगे। श्रद्धा वाकर के पिता ने बताया कि वह परिवार सहित महाराष्ट्र के पालघर में रहते हैं।

पुलिस के मुताबिक, आफताब ने बताया कि शादी करने को लेकर अक्सर श्रद्धा उस पर दबाव बनाती थी। इसी पर दोनों में में अक्सर झगड़ा होता था। बीते 18 मई को झगड़े के दौरान उसने श्रद्धा की गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को चापड़ से कई टुकड़ों में काटा और दिल्ली के अलग अलग इलाकों में फेंक दिया।

यह भी पढ़ें: भारत जोड़ो उपयात्रा के दौरान दिखी गंगा-जमुनी तहजीब, MLA आरिफ मसूद ने मां नर्मदा को अर्पित की चुनरी

उसने यह भी कबूल किया है कि वह रोज रात 2 बजे फ्लैट से निकलता था और 18 दिन तक शव के टुकड़ों को अलग-अलग जगहों पर जाकर फेंकता रहा। उसने शव को रखने के लिए एक 300 लीटर का बड़ा फ्रिज खरीद कर लाया था। घर में शव की बदबू न फैले इसलिए अगरबत्ती जलाता था। आफताब सेफ की ट्रेनिंग ले चुका है, इसलिए उसे इस बात की जानकारी है कि कैसे टुकड़े किए जाते हैं।

आरोपी से पूछताछ के बाद पुलिस ने कहा कि हमने शव के कुछ टुकड़े बरामद किए हैं, लेकिन अभी कह नहीं सकते की वो इंसान की बॉडी का पार्ट है या नही। जिस हथियार से बॉडी को काटा गया है वो अभी बरामद नहीं हुआ है। पुलिस ने कहा जिस तरह लड़की की हत्या की गई और टुकड़े फेंके गए, उससे साफ होता है कि आफताब सबूत मिटाने की साजिश में जुटा हुआ था।