Gurugram: कथित गौ रक्षक हथौड़े से पीटते रहे पुलिस देखती रही

Mob Lynching in India: घायल को सड़क पर पड़ा देखते रहे बीजेपी विधायक, लिंचिंग जैसी मारपीट मामले में पहली गिरफ्तारी

Updated: Aug-01, 2020, 03:32 PM IST

Gurugram: कथित गौ रक्षक हथौड़े से पीटते रहे पुलिस देखती रही
Photo Courtesy : NDTV

गुरूग्राम। मीट ले जा रहे एक शख्स को कथित गौ रक्षकों द्वारा हथौड़े से पीटे जाने के मामले में पुलिस ने प्रदीप यादव नाम के व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। यह इस मामले में पहली गिरफ्तारी है। यह मामला 31 जुलाई की सुबह का है, जब लुकमान नाम का चालक मीट भरी गाड़ी लेकर जा रहा था। उसे कुछ कथित गौ रक्षकों ने रोक लिया और फिर चालक को नीचे उतारकर हथौड़े से पीटना शुरू कर दिया। पुलिस ने बुरी तरह से घायल लुकमान के बयान के आधार पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। चौकाने वाली बात ये ही कि लुकमान को बेरहमी से पीट रहे लोगों के चेहरे साफ दिखने के बाद भी पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। यही नहीं जब चालक को पीटा जा रहा था तो वहां पुलिस के जवान मौजूद थे और किसी ने भी लुकमान को बचाने की कोशिश नहीं की। दूसरी तरफ गाड़ी के मालिक ने बताया कि गाड़ी में भैंस का मांस ले जाया जा रहा था और वे करीब 50 साल से इस कारोबार में हैं।

यह घटना कई मायनों में स्तब्ध करने वाली है। कथित गौ रक्षकों ने पहले तो लुकमान को गुरुग्राम की जु्म्मा मस्जिद के पास हथौड़े से पीटा और फिर वे उसे बादशाहपुर ले गए, जहां उन्होंने उसे फिर से पीटा। इस दौरान पुलिस वहां पहुंची तो कथित गौ रक्षक पुलिस से ही भिड़ गए। इतना सब होने के बाद भी पुलिस ने किसी कथित गौ रक्षक को मौके से गिरफ्तार नहीं किया। दूसरी तरफ सोहना से बीजपी विधायक संजय सिंह भी मौके पर पहुंचे और घायल को सड़क पर पड़ा हुआ देखते रहे।