किसानों से चोरी करना और अरबपतियों की थैली भरना बंद करो, राहुल, प्रियंका का मोदी सरकार पर बड़ा हमला

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी कहा, सरकार ने अरबपतियों के फ़ायदे के लिए ज़मीर बेचकर ज़मीन पर हमला बोला है

Updated: Dec 08, 2020, 11:14 PM IST

किसानों से चोरी करना और अरबपतियों की थैली भरना बंद करो, राहुल, प्रियंका का मोदी सरकार पर बड़ा हमला
Photo Courtesy: DNA India

नई दिल्ली। किसानों के भारत बंद के बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर बड़ा हमला किया है। किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार किसानों से चोरी बंद करे तो प्रियंका गांधी ने किसानों के आंदोलन को आम लोगों की थाली भरने और अरबपतियों की थैली भरने वालों के बीच का संघर्ष बताया है। 

राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा है, ‘मोदी जी, किसानों से चोरी बंद करो। सभी देशवासी जानते हैं कि आज भारत बंद है। इसका संपूर्ण समर्थन करके हमारे अन्नदाता के संघर्ष को सफल बनाएं।’

 

 

प्रियंका गांधी ने किसानों के भारत बंद का समर्थन करते हुए कहा, ‘जो किसान अपनी मेहनत से फसल उगाकर हमारी थालियों को भरता है, उन किसानों को बीजेपी सरकार अपने अरबपति मित्रों की थैली भरने के दबाव में भटका हुआ बोल रही है।’ प्रियंका गांधी ने किसानों का साथ देने की अपील करते हुए कहा, ‘ये संघर्ष आपकी थाली भरने वालों और अरबपतियों की थैली भरने वालों के बीच है. आइए, किसानों का साथ दें।‘

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के अलावा कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने मोदी सरकार को घेरा। उन्होंने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ‘उठो साथी, अगली फसल और अगली नस्ल के लिए लड़ना होगा। उस मोदी सरकार से लड़ना होगा जिसने उद्योगपतियों के हित साधने के लिए ज़मीर बेच कर ज़मीन पर हमला बोला है। आइये, देश के लिए और देश के भविष्य के लिए अन्नदाता के साथ भारत बंद में शामिल हों।

 

बता दें कि मोदी सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के भारत बंद का कांग्रेस समेत ज़्यादातर विपक्षी दल समर्थन कर रहे हैं। दिल्ली समेत देश के अलग अलग हिस्सों में कांग्रेस के कार्यकर्ता भारत बंद के समर्थन में उतरे हैं। भारत बंद को सफल बनाने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ता सुबह से ही टोलियां बनाकर निकल पड़े। उन्होंने व्यापारियों और दुकानदारों से बंद की अपील की। जबकि बीजेपी के नेता और मंत्री किसानों की नाराज़गी दूर करने में नाकाम होने के बाद अब पूरे आंदोलन के लिए विपक्ष को कटघरे में खड़ा करने की रणनीति पर उतर आए हैं।