जल्द हो सकता है मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार, सिंधिया को रेल मंत्री बनाए जाने का दावा

सिंधिया के अलावा असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस जैसे चेहरे भी मोदी कैबिनेट का हिस्सा बन सकते हैं

Updated: Jun 13, 2021, 10:49 AM IST

जल्द हो सकता है मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार, सिंधिया को रेल मंत्री बनाए जाने का दावा
Photo Courtesy: India Today

नई दिल्ली/भोपाल। मध्यप्रदेश में कमल नाथ सरकार गिराने में बीजेपी की सबसे बड़ी सहायता करने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को आखिरकार इनाम मिलने की सुगबुगाहट तेज़ हो गई है। जल्द होने वाले मोदी कैबिनेट के विस्तार में ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी जगह मिल सकती है। दावे किए जा रहे हैं कि सिंधिया को मोदी मंत्रिमण्डल में रेल मंत्रालय की ज़िम्मेदारी मिल सकती है। सिंधिया को रेल मंत्रालय मिलने की संभावना पर दावा खुद सिंधिया समर्थक एक वरिष्ठ नेता ने हिंदी के एक प्रमुख अख़बार से बातचीत के दौरान ठोका है। हालांकि दूसरी तरफ चर्चा यह भी है कि मोदी सरकार किसी मंत्रालय में राज्य मंत्री का लॉलीपॉप भी सिंधिया को थमा सकती है।

यह भी पढ़ें : शनिवार को दिल्ली में मिले कोरोना के 213 मरीज़, तीन महीनों में सबसे कम 

इसकी बड़ी वजह यह है कि सिंधिया से पहले खुद बीजेपी के कई बड़े नेता मंत्री बनने के कतार में हैं। असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल से गद्दी छीनने के बाद बीजेपी उन्हें मंत्री बनाने की तैयारी कर रही है। वहीं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को भी मोदी के मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की चर्चा है। लिहाज़ा सिंधिया को केंद्र में किसी बड़े मंत्रालय की ज़िम्मेदारी मिलेगी या नहीं इस पर अभी सस्पेंस बरकरार है। 

यह भी पढ़ें : भोज में मछली के फेवरेट पीस के लिए खूनी झड़प, जमकर चले लाठी-डंडे, मारपीट में 11 घायल

मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल की ज़िम्मेदारी जब संभाली थी, तब मोदी मंत्रिमंडल में कुल 57 मंत्री थे। लेकिन मौजूदा समय में मोदी की कैबिनेट में 53 मंत्री ही हैं। रामविलास पासवान और सुरेश अंगाडी का निधन हो चुका है। जबकि हरसिमरत कौर बादल और अरविंद सावंत इस्तीफा दे चुके हैं। जिस वजह से कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, पीयूष गोयल और प्रकाश जावड़ेकर जैसे मंत्री अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे हैं।