Jammu and Kashmir: इस साल भारतीय सेना ने 200 आतंकियों को किया ढेर

मारे गए आतंकियों में हिज़बुल मुजाहिद्दीन के सबसे ज्यादा आतंकी थे.. हिज़बुल मुजाहिद्दीन के 72 दहशतगर्दों का सफाया हुआ है

Updated: Nov 05, 2020, 07:57 AM IST

Jammu and Kashmir: इस साल भारतीय सेना ने 200 आतंकियों को किया ढेर
Photo Courtesy: Dainik Bhaskar

जम्मू कश्मीर। कश्मीर में सुरक्षाबलों ने इस साल करीब 200 आतंकियों को मार गिराया है। पिछले साल के मुकाबले इस साल 43 ज्यादा आतंकियों के एनकाउंटर हुए हैं। 2019 में 157 आंतकियों को सुरक्षाबलों ने ढेर किया था। सीआरपीएफ, सेना और पुलिस के संयुक्त डेटा के मुताबिक जून महीने में सबसे ज्यादा 49 आतंकियों का एनकाउंटर हुआ। पिछले साल के जून के आंकड़ो के आगे ये डबल हैं।

अप्रैल में 28 तो वहीं जुलाई और अक्टूबर में 21-21 आतंकियों का सफाया हुआ। डेटा के मुताबिक सबसे ज्यादा आतंकी दक्षिणी कश्मीर में मारे गए हैं। यहां कुल 138 एनकाउंटर हुए हैं। इसमें पुलवामा में 49 और शोपिया में 49 आतंकी मारे गए हैं।

जानकारी के मुताबिक, मारे गए आतंकियों में हिजबुल मुजाहिद्दीन के सबसे ज्यादा आतंकी थे। हिजबुल मुजाहिद्दीन के 72 दहशतगर्दों का सफाया हुआ है। इसके अलावा लश्कर-ए-तैयबा 59 आतंकी मारे गए हैं। जैश-ए-मोहम्मद के 37 और IS जैसे अन्य आतंकी संगठन के 32 आतंकियों को ढेर किया गया है। शोपिया और पुलवामा में आतंकी संगठन काफी सक्रिय हैं। ये आतंकी संगठन यहां के युवाओं को भटकाने का काम कर रहे हैं। युवाओं को गुमराह कर संगठन में शामिल किया जा रहा है।

सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक, लश्कर-ए-तैयबा ने जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले कराने की जिम्मेदारी ली हुई है। इसी तरह हिजबुल मुजाहिद्दीन पुलिस और राजनेताओं की हत्या में शामिल है। आपको बता दें, जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों ने आतंकियों का सफाया करने के लिए बड़ा अभियान छेड़ा हुआ है। सुरक्षाबलों की एक के बाद एक कार्रवाई ने दहशतगर्दों की नींद उड़ा रखी हैं।