शशि थरूर ने मल्लिकार्जुन खड़गे को खुली बहस के लिए किया आमंत्रित, बोले- इससे लोगों की दिलचस्पी बढ़ेगी

कांग्रेस के अध्यक्ष पद के चुनाव में वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को शशि थरूर ने खुली बहस के लिए आमंत्रित किया है, उन्होंने कहा है कि ब्रिटेन की कंजरवेटिव पार्टी की तरह चुनाव होंगे तो लोगों की दिलचस्पी बढ़ेगी।

Updated: Oct 02, 2022, 04:40 PM IST

शशि थरूर ने मल्लिकार्जुन खड़गे को खुली बहस के लिए किया आमंत्रित, बोले- इससे लोगों की दिलचस्पी बढ़ेगी

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव में मल्लिकार्जुन खड़गे और शशि थरूर के बीच सीधी लड़ाई है। माना जा रहा है कि चुनाव में मल्लिकार्जुन खड़गे की एकतरफा जीत होगी। हालांकि, थरूर भी मुकाबले से पीछे हटते नहीं दिख रहे। शशि थरूर ने मल्लिकार्जुन खड़गे को खुली बहस के लिए आमंत्रित किया है।

शशि थरूर ने रविवार को कहा कि वह उम्मीदवारों के बीच सार्वजनिक बहस के लिए तैयार हैं। इसके पीछे उन्होंने तर्क दिया कि इससे लोगों की उसी तरह से पार्टी में दिलचस्पी पैदा होगी, जैसे कि हाल में ब्रिटेन में कंजरवेटिव पार्टी के नेतृत्व पद के चुनाव को लेकर हुई थी। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस पार्टी के सदस्यों के दिलों में नेहरू-गांधी परिवार की हमेशा खास जगह रही है और रहेगी।

शशि थरूर ने आगे कहा कि कांग्रेस की मौजूदा चुनौतियों का जवाब प्रभावी नेतृत्व और संगठनात्मक सुधार के संयोजन में निहित है।उन्होंने अपनी दावेदारी को मजबूत करते हुए कहा कि, 'संगठनों का उच्च स्तर पर नेतृत्व करने का मेरा विश्वसनीय ट्रैक रिकॉर्ड रहा है। संयुक्त राष्ट्र के जन सूचना विभाग के प्रभारी महासचिव के तौर पर मैंने दुनियाभर में 77 कार्यालय में 800 से अधिक कर्मियों के संयुक्त राष्ट्र के सबसे बड़े विभाग के संचार का जिम्मा संभाला था। इसे देखते हुए कई लोगों ने मुझे संयुक्त राष्ट्र संगठन का नेतृत्व करने के लिए चुनाव लड़ने का अनुरोध किया था।'

यह भी पढ़ें: मल्लिकार्जुन खड़गे ने राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष के पद से दिया इस्तीफा

उधर कांग्रेस पार्टी के तीन राष्ट्रीय प्रवक्ताओं ने इस्तीफा दे दिया है। पार्टी नेता गौरव वल्लभ नेरविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि हमारी अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्देश पर, नए अध्यक्ष के निष्पक्ष चुनाव के लिए मैंने, दीपेंदर हुड्डा और सैय्यद नासिर हुसैन ने राष्ट्रीय प्रवक्ता पद से इस्तीफा दिया है, जिससे इस चुनाव को याद रखा जाए।

वहीं मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि, ,'जिस दिन मैंने अपना नामांकन दाखिल किया, मैंने उदयपुर में लिए गए पार्टी के ‘एक व्यक्ति एक पद’ के फैसले के अनुरूप राज्यसभा में विपक्ष के नेता पद से इस्तीफा दे दिया। मैं आज आधिकारिक तौर पर कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष पद के लिए अपना अभियान शुरू करता हूं। आज गांधी जी और शास्त्री जी का जन्मदिन है, इसलिए मैंने यह दिन चुना है।'

कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव में नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि आठ अक्टूबर है।जरूरत पड़ने पर चुनाव 17 अक्टूबर को कराया जाएगा। मतगणना 19 अक्टूबर को होगी और नतीजे उसी दिन घोषित किए जाएंगे।