CBSE की 12वीं बोर्ड परीक्षाओं को लेकर अहम बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री करेंगे, केंद्रीय शिक्षा मंत्री हैं बीमार

मंगलवार शाम होने वाली बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे विचार विमर्श, 12वीं बोर्ड परीक्षा के पैटर्न, परीक्षा की संभावनाओं पर होगा फाइनल फैसला

Updated: Jun 01, 2021, 05:03 PM IST

CBSE की 12वीं बोर्ड परीक्षाओं को लेकर अहम बैठक की अध्यक्षता प्रधानमंत्री करेंगे, केंद्रीय शिक्षा मंत्री हैं बीमार
Photo courtesy: DNA India

दिल्ली। 12वीं परीक्षाओं को लेकर मंगलवार को एक अहम बैठक होने जा रही है। जिसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक की अचानक तबीयत खराब हो जाने की वजह प्रधानमंत्री इस बैठक में शामिल होने जा रहे हैं। इस महत्वपूर्ण बैठक में 12वीं परीक्षाओं को लेकर विचार विमर्श होगा। कोरोना की तीसरी लहर की आमद के बीच किस तरह परीक्षाओं का संचालन होगा। परीक्षाएं होंगी या नहीं इस बारे में फैसला होने की पूरी उम्मीद है। 

इस अहम बैठक में पहले केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को शामिल होना था। लेकिन उनका स्वास्थ्य अचानक खराब होने की वजह से उन्हें दिल्ली के AIIMS  में भर्ती कराया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो उन्हें पोस्ट कोविड परेशानियों की वजह से अस्पताल में भर्ती किया गया है। मंगलवार सुबह उनकी तबीयत बिगड़ने पर उन्हें डॉक्टरों की सलाह पर एम्स में दाखिल किया गया है। इससे पहले 21 अप्रैल को उनमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। जिसके बाद वे ठीक हो गए थे।

अब एक बार फिर उनकी तबीयत बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है। जहां डाक्टरों की टीम उनके  इलाज में जुटी है। उनकी जरूरी जांचें की जा रही हैं।  

मंगलवार शाम प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में 12वीं की  परीक्षा पर फैसला होगा। जिसकी घोषणा केंद्रीय शिक्षा मंत्री करने वाले थे।  पहले माना जा रहा था कि बैठक और परीक्षाओं पर फैसला मंगलवार से आगे टल सकता है, लेकिन अब प्रधानमंत्री बैठक लेंगे। दरअसल सुप्रीम कोर्ट में सरकार को परीक्षाओं को लेकर तीन जून तक अपना जवाब पेश करना है।

वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने की मांग की है। उन्होंने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा था। उनका कहना था कि कोरोना महामारी के दौर में ऑफलाइन परीक्षा होने से छात्रों में कोरोना फैलने का खतरा है।

देश में बीते 24 घंटों में कोरोना के एक लाख 26 हजार 649 मरीज मिले हैं। वहीं कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 2 लाख 54 हजार 879 है। कोरोना एक्टिव केसों की संख्या 18 लाख 90 हजार 975 है। कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 2 हजार 795 है, जिसके बाद कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 3 लाख 31 हजार 895 पहुंच गया है।