सिराज के खिलाफ लगातार दूसरे दिन नस्लीय टिप्पणी, दर्शकों को पुलिसकर्मियों ने स्टेडियम के बाहर किया

कल भी सिराज और बुमराह के खिलाफ एक दर्शक ने नस्लीय टिप्पणी की थी, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इंडियन टीम के खिलाफ की गई टिप्पणी की निंदा की है

Updated: Jan 10, 2021, 06:38 PM IST

सिराज के खिलाफ लगातार दूसरे दिन नस्लीय टिप्पणी, दर्शकों को पुलिसकर्मियों ने स्टेडियम के बाहर किया
Photo Courtesy: Scroll.in

नई दिल्ली। सिडनी में खेले जा रहे बॉर्डर गावस्कर सीरीज के तीसरे मैच में लगातार दूसरे दिन भारतीय टीम के खिलाड़ी मोहम्मद सिराज के खिलाफ नस्लीय टिप्पणी का मामला सामने आया है। ऑस्ट्रेलियन टीम की बल्लेबाज़ी के दौरान बाउंड्री पर फील्डिंग कर रहे सिराज के खिलाफ दर्शक दीर्घा में बैठे एक दर्शक ने नस्लीय टिप्पणी की। ऑन फील्ड अंपायर से इस घटना की शिकायत की गई, जिसके बाद टिप्पणी करने वाले दर्शक समेत 6 लोगों के उसके ग्रुप को मैदान से बाहर कर दिया गया। 

दरअसल यह पूरा घटनाक्रम ऑस्ट्रेलिया टीम की पारी में 86 वें ओवर के दौरान का है। उस समय मोहम्मद सिराज बाउंड्री पर फील्डिंग कर रहे थे। तभी स्टैंड में मौजूद एक दर्शक ने उन्हें मंकी यानी बंदर कह दिया। सिराज और भारतीय टीम ने इसकी शिकायत ऑन फील्ड अंपायर पॉल राफेल से की। जिसके बाद सुरक्षा कर्मियों ने नस्लीय टिप्पणी करने वाले दर्शक को मैदान से बाहर कर दिया। 

इससे पहले शुक्रवार को भी सिराज और जसप्रीत बुमराह के खिलाफ नस्लीय टिप्पणी की गई थी। जिसके बाद बीसीसीआई ने मैच रेफरी डेविड बून से इस पूरे घटनाक्रम की शिकायत की थी। सिडनी टेस्ट के दौरान ऐसे मामले सामने आने के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इसकी निन्दा की है। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने नस्लीय टिप्पणी करने वालों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस पॉलिसी अपनाकर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। 

हालांकि इस पूरी घटना के बाद 2007-08 में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एंड्र्यू सायमंड्स और हरभजन सिंह के बीच हुए विवाद को भी याद किया जा रहा है। उस वक्त सायमंड्स ने आरोप लगाया था कि हरभजन ने उन्हें मंकी कहा है। यह पूरा घटनाक्रम सिडनी के ही मैदान पर हुआ था। उस समय हरभजन और सचिन तेंडुलकर बल्लेबाज़ी कर रहे थे। भज्जी सायमंड्स विवाद के अलावा यह मैच मैदान में हुई बेईमानी के लिए भी काफी विवादित रहा था। 

बहराहल इस पूरे मामले पर जांच समिति बैठी थी। उसकी पेशी में हरभजन के साथ सचिन भी गए थे। वहीं ऑस्ट्रेलियन टीम की तरफ से रिकी पॉन्टिंग और एंड्र्यू सायमंड्स भी गए थे। सचिन ने कहा था कि हरभजन ने सायमंड्स को कुछ कहा ज़रूर था लेकिन वो अमर्यादित भाषा के दायरे में नहीं आता। हालांकि इसके बावजूद जांच समिति ने हरभजन सिंह पर एक मैच का प्रतिबंध लगा दिया था। इसके बाद सिडनी टेस्ट के तमाम विवादों से उबर कर टीम इंडिया ने पर्थ में खेले गए तीसरे मुकाबले में शानदार जीत दर्ज की थी।