राष्ट्रीय शिक्षक सम्मान प्राप्त डॉ उषा खरे बनीं केबीसी कर्मवीर, जीते 25 लाख

भोपाल के हाईटेक सरकारी स्कूल की प्रिंसिपल डॉक्टर ऊषा खरे ने कौन बनेगा करोड़पति में जीते 25 लाख रुपये, बोलीं गरीब छात्राओं के लिए खरीदेंगी बस ताकि उनकी पढ़ाई ना छूटे

Updated: Dec 20, 2020, 12:57 AM IST

राष्ट्रीय शिक्षक सम्मान प्राप्त डॉ उषा खरे बनीं केबीसी कर्मवीर, जीते 25 लाख
Photo Courtesy: youtube

भोपाल। फेमस टीवी गेम शो कौन बनेगा करोड़पति में भोपाल की टीचर डाक्टर उषा खरे ने 25 लाख रुपए जीते हैं। वे इस रकम से उन स्कूली छात्राओं के लिए बस खरीदना चाहती हैं, जो गरीबी और संसाधनों की कमी की वजह से स्कूल नहीं जा पाती हैं।

डॉक्टर उषा खरे भोपाल के शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, जहांगीराबाद की प्रिंसीपल हैं। उन्हें साल 2017 में राष्ट्रीय शिक्षक सम्मान और राज्य स्तर पर भी सम्मानित किया जा चुका है। ऊषा की ही मेहनत की नतीजा है कि भोपाल के जहांगीराबाद का सरकारी स्कूल हाइटेक स्कूल बन गया उनके स्कूल में छात्राएं टैबलेट से पढ़ाई करती हैं। 2014 में उनके स्कूल में इंग्लिश मीडियम की शुरुआत हुई। उनके स्कूल में करीब 1200 छात्राएं पढ़ती हैं। शिक्षा के क्षेत्र में उनके विशेष योगदान के मद्देनजर उन्हें कौन बनेगा करोड़पति के कर्मवीर एपिसोड में आमंत्रित किया गया। ऊषा खरे का कहना है कि केबीसी के सेट पर अमिताभ बच्चन ने उनसे वादा किया है कि जब भी वे भोपाल आएंगे तो उनके स्कूल जरूर विजिट करेंगे।

  और पढ़ें: KBC: भोपाल की ओशीन जौहरी ने जीते 25 लाख

 कौन बनेगा करोड़पति में उषा खरे के साथ ग्लोबल टीचर अवार्ड से सम्मानित रणजीत सिंह डिसले भी शामिल हुए थे। केबीसी कर्मवीर में इनदोनों का साथ देने एक्टर बोमन ईरानी भी पहुंचे थे। केबीसी में ऊषा खरे और रणजीत सिंह डिसले की जोड़ी ने 50 लाख रुपए जीते। दोनों को 25-25 लाख मिले हैं। जिसे ऊषा खरे गरीब छात्राओं के लिए बस खरीद कर उन्हें स्कूल आने के लिए प्रेरित करेंगी।

और पढ़ें: KBC: जबलपुर के दो सब इंस्पेक्टर्स के साथ नोएडा में मारपीट, एक की सर्विस रिवॉल्वर भी छीनी

उषा खरे से पहले भोपाल की ओशीन जौहरी ने केबीसी में 25 लाख रुपए और इंजीनियरिंग स्टूडेंट आरती जगताप ने साढ़े 6 लाख रुपए जीते थे।