Telangana: हैदराबाद की मस्जिद में खुला लेडीज स्पेशल जिम और वेलनेस सेंटर

तेलंगाना के हैदराबाद में एक NGO की मदद से मस्जिद में खोला गया जिम, गरीब महिलाओं को लेडीज ट्रेनर्स सिखाती हैं फिट रहने के गुर, देती हैं हेल्थ टिप्स

Updated: Jan 23, 2021, 01:51 PM IST

Telangana: हैदराबाद की मस्जिद में खुला लेडीज स्पेशल जिम और वेलनेस सेंटर
Photo Courtesy: Times of India

हैदराबाद। कहा जाता है पहला सुख निरोगी काया, इसी बात के मद्देनजर हैदराबाद की महिलाओं के लिए एक अनोखी पहल की गई है। जिसके तहत हैदराबाद के राजेंद्रनगर स्थित ‘मस्जिद-ए-मुस्तफा’ का नजारा बदला हुआ नजर आ रहा है।  यहां बड़ी संख्या में महिलाओं का आना जाना लगा रहता है। यहां महिलाओं के लिए स्पेशल जिम खोला गया है, जहां प्रोफेशनल महिला जिम ट्रेनर्स उन्हें फिटनेस के गुर सिखाती हैं।

महिला जिम ट्रेनर होने की वजह से यहां आने वाली औरतें बिना किसी संकोच के एक्सराइज कर पाती ही हैं, साथ ही अपनी जिंदगी से जुड़ी अन्य समस्याओं के बारे में भी चर्चा करती हैं। इस जिम का संचालन हैदराबाद के एक एनजीओ की मदद से हो रहा है। जिसकी फंडिंग अमेरिका का एक एनजीओ करता है।

दरअसल यहां स्लम एरिया में महिलाओं की सेहत के बारे सर्वे हुआ था, जिसमें पाया गया था कि 25 से 55 साल की बहुत सी महिलाएं कई बीमारियों से पीड़ित हैं, इनमें मोटापा, डायबिटीज, हाइपरटेंशन, थायराइड के मरीजों की संख्या काफी थी। 

राजेंद्रनगर के इस अनोखे जिम और वेलनेस सेंटर में महिलाओं को हेल्दी रहने के टिप्स दिए जाते हैं। डाइट चार्ट दिया जाता है, वेट मेंटेनेस और उनकी दूसरी समस्याओं का समाधान किया जाता है। यह पहला मौका है जब तेलंगाना में किसी मस्जिद ने खासतौर पर लेडीज ट्रेनर्स के साथ के साथ महिलाओं के लिए जिम खोला है।   

हेल्पिंग हैंड फाउंडेशन के मैनेजिंग ट्रस्टी मुजतबा हसन असगरी हैं। उनका कहना है कि मस्जिद में जिम के अलावा क्लिनिक की सुविधा भी मौजूद है। यहां महिलाओं को डाइट प्लान, एक्सरसाइज के साथ उनका मेडिकल चेकअप भी किया जाता है। साथ ही किडनी और आंखों से संबंधित समस्याओं की स्क्रीनिंग भी होती है।

इस वेलनेस सेंटर में ट्रेंड और प्रोफेशनल काउंसलर्स हर वक्त महिलाओं की मदद के लिए मौजूद रहती हैं। जिम में प्रोफेशनल ट्रेनर्स महिलाओं को दिन में 2 बार वर्कआउट भी करवाती हैं। यह जिम तमाम आधुनिक मशीनों से लैस है। ‘मस्जिद-ए-मुस्तफा’ की संचालन समिति का कहना है कि इसका उद्देश्य महिलाओं को सेहतमंद रखने में उनकी मदद करना है।