रायपुर, जशपुर और राजनांदगांव में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन, बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन का फैसला

लॉकडाउन के दौरान आवश्यक सेवाएं रहेंगी चालू, सीएम भूपेश बघेल ने कलेक्टरों को दिए आवश्यक निर्देश, फल, सब्जी, रसोई गैस की होम डिलीवरी हो सकेगी

Updated: Apr 17, 2021, 05:36 PM IST

रायपुर, जशपुर और राजनांदगांव में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन, बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन का फैसला
Photo courtesy: patrika

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण तेज़ी से बढ़ रहा है, रायपुर,जशपुर, राजनांदगांव कोरबा जिले में 26 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन ने ये फैसला लिया है। बस्तर के नारायणपुर जिले में भी 19 से 26 अप्रैल तक लॉकडाउन रहेगा। यह जिला प्रदेश के सबसे कम सक्रिय मरीजों वाले जिले में से एक है। यहां अभी कुल 113 कोरोना मरीज हैं, अब तक 2 लोगो की जान जा चुकी है।

इससे पहले शुक्रवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को देखते हुए कई जिलों में जारी लॉकडाउन की अवधि में जन सुविधा को ध्यान में रखते हुए कलेक्टरों को अत्यावश्यक सेवाओं सहित फल, सब्जी, दूध, रसोई गैस की डोर-टू-डोर डिलिवरी की अनुमति एवं इसके लिए आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

सीएम बघेल ने लॉकडाउन अवधि में पेट्रोल पम्प, दवाई दुकान, रसोई गैस एजेंसी, हॉस्पिटल एवं पशुओं के आहार से संबंधित दुकानों को खोलने की अनुमति देने को कहा है। उन्होंने गांवों में सब्जी फल की खेती करने वाले किसानों को यदि वह शहर आकर कालोनियों एवं मोहल्लों में डोर-टू-डोर सब्जी-फल बेचना चाहते हैं तो उन्हें भी इसकी अनुमति दिए जाने के निर्देश दिए हैं।

लॉकडाउन के दौरान सब्जी, फल की दुकानें बंद रहेंगी। वहीं बैंकिंग सेवा संबंधित कार्य चालू रहेंगी। यहां पब्लिक डीलिंग की अनुमति नही होगी। एटीएम सुविधा 24 घंटे चालू रहेंगी। 

गौरतलब है कि प्रदेश में शुक्रवार को 49,584 व्यक्तियों की जांच हुई। जिसमें से 14,912 नए कोरोना  संक्रमित मरीज़ मिले। इस तरह संक्रमण की दर 30.07% रही। अकेले रायपुर जिले में नए मरीजों की संख्या 3,813 दर्ज की गई। रायपुर में कुल 138 कोरोना मरीज़ों की अब तक मौत हो चुकी है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या 5,580 तक पहुंच गई है।