CM बघेल के आमंत्रण पर कौशल्या माता मंदिर पहुंचे RSS प्रमुख, अब गौठान देखने के लिए किया आमंत्रित

रायपुर प्रवास पर पहुंचे संघ प्रमुख को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कौशल्या मंदिर में दर्शन करने का निमंत्रण दिया था, मंगलवार को मोहन भागवत मंदिर पहुंचे और उन्होंने पूजा अर्चना भी की, अब सीएम बघेल ने उन्हें गौठान देखने के लिए आमंत्रित किया है

Updated: Sep 13, 2022, 05:20 PM IST

CM बघेल के आमंत्रण पर कौशल्या माता मंदिर पहुंचे RSS प्रमुख, अब गौठान देखने के लिए किया आमंत्रित

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आमंत्रण पर संघ प्रमुख मोहन भागवत मंगलवार दोपहर चंदखुरी स्थित माता कौशल्या धाम पहुंचे। मोहन भागवत ने माता कौशिल्या मंदिर में पूजा अर्चना की और पूरे परिसर का अवलोकन भी किया। अब सीएम बघेल ने उन्हें गौठान और स्वामी आत्मानंद योजना के तहत तैयार स्कूल देखने के लिए आमंत्रित किया है।

दरअसल, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की अखिल भारतीय समन्वय बैठक में शामिल होने के लिए संघ प्रमुख रायपुर पहुंचे थे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मोहन भागवत को कौशल्या मंदिर में दर्शन करने का निमंत्रण दिया था। सोमवार शाम को कांग्रेस शहर अध्यक्ष गिरीश दुबे ने अधिकृत रूप से जैनम मानस भवन में जाकर निमंत्रण पत्र सौंपा था। इसके बाद मंगलवार दोपहर संघ प्रमुख कौशल्या माता मंदिर दर्शन करने पहुंचे। इसके बाद वे वीआईपी रोड स्थित राम मंदिर पहुंचे। जहां उन्होंने भागवत ने भगवान श्रीराम का दर्शन किया।

यह भी पढ़ें: MP: सड़क हादसे में घायल को लेने नहीं आई एंबुलेंस, JCB के पंजे पर लिटाकर पहुंचाया अस्पताल

भागवत के इस यात्रा में प्रदेश की सियासी सरगर्मियां तेज कर दी है। वहीं सीएम बघेल ने इसपर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा है कि, 'हमने मोहन भागवत जी को माता कौशल्या मंदिर दर्शन के लिए आमंत्रित किया था।
मुझे विश्वास है कि वहां पहुंचकर उन्हें शांति की अनुभूति हुई होगी। मंदिर का नया स्वरूप, मां कौशल्या की ममता, भांचा राम की शक्ति का उन्हें एहसास हुआ होगा।'

सीएम बघेल ने आगे लिखा कि, 'हम उन्हें गौठान भी देखने के लिए आमंत्रित करते हैं जिससे गौ-माता की सेवा, उन्हें उत्पादकता से जोड़ना इत्यादि जान सकें।
संस्कृत अनिवार्य विषय के साथ स्वामी आत्मानंद स्कूल योजना के अंतर्गत तैयार शानदार स्कूल भी यदि देखेंगे तो शिक्षा, संस्कार, आधुनिकता एक साथ जोड़ना भी सीख सकेंगे।'