छत्तीसगढ़ से केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की ललकार, नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई और तेज होगी, नक्सलियों को मांद में घुसकर मारा जाएगा

छत्तीसगढ़ में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, CRPF, DRG और अन्य सुरक्षा बलों के आला अधिकारियों के साथ नक्सलियों से निपटने की रणनीति पर चर्चा की, इससे पहले 23 शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने भी गए थे।

Updated: Apr 05, 2021, 03:16 PM IST

छत्तीसगढ़ से केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की ललकार, नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई और तेज होगी, नक्सलियों को मांद में घुसकर मारा जाएगा
Photo Courtesy: twitter/ ani

बीजापुर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सली गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक ली। इस दौरान बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, CRPF, DRG और अन्य सुरक्षा बलों के आला अधिकारी मौजूद थे। यह बैठक जगदलपुर सर्किट हाउस में हुई। बैठक के बाद अमित शाह ने कहा कि नक्सलियों की इस करतूत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई नहीं रुकेगी। उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। इलाके में लगातार कैंप स्थापित किए जा रहे हैं, उससे बौखलाए नक्सली इस तरह की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं।

हाई लेवल बैठक के बाद गृह मंत्री ने कहा कि शहीद जवानों का ये बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई रुकेगी नहीं बल्कि और गति के साथ आगे बढ़ेगी। नक्सलियों के खिलाफ हमारी जीत निश्चित है। गृह मंत्री अमित शाह ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई को अंजाम तक ले जाया जाएगा। इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार मिलकर काम कर रहे हैं।

और पढ़ें: गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी

हाई लेवल मीटिंग के बाद उन्होंने कहा कि सेना के अफसरों से बात में यह स्पष्ट है कि जवानों का मनोबल कम नहीं हुआ। नक्सलियों के खिलाफ आपरेशन से नक्सलियों में बौखलाहट है। उन्होंने कहा है कि नए कैंप खोले जाएंगे। नक्सलियों को चेतावनी देते हुए अमित शाह ने कहा कि नक्सलियों के मांद में घुसकर मारा जाएगा। सरकार आदिवासी नेताओं का सुझाव मानकर कार्य कर रही है। शनिवार को नक्सली हमले में शहीद 23 जवानों को गृह मंत्री ने श्रद्धांजलि दी। उसके बाद उन्होंने घायल जवानों से मुलाकात की।

और पढ़ें: बीजापुर नक्सली हमले में 23 जवानों के शहीद होने की खबर, कुछ अब भी लापता

इस उच्च स्तरीय बैठक के बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि केंद्र और राज्य मिलकर नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं। संकट की घड़ी में पूरा देश जवानों के साथ है। इस लड़ाई को विजय में बदलेंगे। उन्होंने कहा कि मुठभेड़ नहीं ये युद्ध है। जवान पहले भी नक्सलियों से लड़ते रहे हैं, लेकिन पहली बार ऐसा हुआ है कि जवान नक्सलियों के हथियार भी लाये हैं। उनका दावा है कि नक्सलियों को भी भारी नुकसान हुआ है।