Harley Davidson के बाद अब Ford Motor ने भी भारतीय बाजार को कहा टाटा, प्रोडक्शन और सेल बंद करने का ऐलान

भारत में भारी नुकसान से जूझ रही अमेरिकी वाहन निर्माता कंपनी फोर्ड ने भारत में अपना धंधा समेटने का ऐलान किया है, इसके पहले हार्ले डेविडसन और जनरल मोटर्स जैसी मशहूर कंपनियां भारत छोड़ चुकी हैं

Updated: Sep 10, 2021, 03:48 PM IST

Harley Davidson के बाद अब Ford Motor ने भी भारतीय बाजार को कहा टाटा, प्रोडक्शन और सेल बंद करने का ऐलान
Photo Courtesy : Financial express

नई दिल्ली। भारतीय बाजार से विदेशी कंपनियों का मोहभंग होने का सिलसिला जारी है। मंदी के दौर से गुजर रही भारतीय ऑटो सेक्टर को बड़ा झटका लगा है। दिग्गज वाहन निर्माता कंपनी फोर्ड ने भारत में अपना कारोबार खत्म करने का ऐलान किया है। इसके पहले जनरल मोटर्स और हार्ले डेविडसन जैसे मशहूर अमेरिकी वाहन निर्माता कंपनियां भी भारत छोड़ चुके हैं।

फोर्ड मोटर कंपनी ने भारत में अपने दोनों मैन्युफैक्चरिंग प्लांट्स को भी बंद करने का फैसला लिया है। कंपनी अपनी गुजरात के साणंद और तमिलनाडु के चेन्नई में स्थित प्लांट्स को अगले साल के मध्य तक बंद कर देगी। कंपनी के इस फैसले का कम से कम 4 हजार कर्मचारियों पर बुरा असर पड़ेगा। साणंद की फैक्ट्री फिलहाल 10 फीसदी क्षमता पर ही काम कर रही है।

यह भी पढ़ें: इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनी टेस्ला जल्द ही भारतीय बाजार में उतारेगी अपनी गाड़ियां, 4 वाहनों को मिली मंजूरी

प्लांट्स बंद होने के बाद भारत में Ford Figo, Ford Freestyle, Ford Aspire जैसी हैचबैक और सिडैन कारों के अलावा Ford Ecosport और Ford Endeavour जैसी कारों का प्रोडक्शन बंद हो जाएगा। कंपनी के मुताबिक भारत में फोर्ड डीलरशिप में उनके पास महज एक हजार कारें बची हैं। ऐसे में यदि आप फोर्ड की कार खरीदना चाहते हैं जल्दी करें, क्योंकि आने वाले समय में भारत में इन कारों की बिक्री भी बंद हो जाएगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कंपनी साणंद में अपने इंजन फैक्ट्री को चालू रखेगी। ताकि पुराने भारतीय ग्राहकों को कंपनी सर्विस देती रहे। दरअसल, पिछले कुछ वर्षों से भारत में फोर्ड के कारोबार में बेहद गिरावट आई है। कंपनी के मुताबिक पिछले 10 साल में उसे 2 बिलियन डॉलर का नुकसान हुआ है। आने वाले समय में कंपनी नुकसान से बचने के लिए बिजनेस को रिस्ट्रक्चर करने की योजना में है।