मेहुल चोकसी के भारत प्रत्यर्पण पर आज आएगा फैसला, पत्नी ने मारपीट पर उठाए सवाल

चोकसी के वकील और पत्नी का आरोप है कि चोकसी का अपहरण कर डोमिनिका ले जाया गया है, उसके साथ मारपीट भी की गई है, जबकि एंटीगुआ सरकार ने चोकसी को सीधे भारत को प्रत्यर्पित करने की मांग की है

Updated: Jun 03, 2021, 09:00 AM IST

मेहुल चोकसी के भारत प्रत्यर्पण पर आज आएगा फैसला, पत्नी ने मारपीट पर उठाए सवाल
Photo Courtesy: India Tv

नई दिल्ली। मेहुल चोकसी को लेकर डोमिनिका कोर्ट में बुधवार को हुई सुनवाई टाल दी गई। गुरुवार को चोकसी के मामले में फैसला आ सकता है। जिसमें यह तय होगा कि चोकसी को किसे सौंपा जाएगा। हालांकि एंटीगुआ की सरकार पहले ही चोकसी को भारत को सौंपे जाने की मांग कर चुकी है। 

भगोड़ा कारोबारी मेहुल चोकसी के वकीलों का कहना है कि चोकसी का अपहरण कर एंटीगुआ से डोमिनिका ले जाया गया था। उसके साथ मारपीट भी की गई। यही आरोप चोकसी की पत्नी प्रीति ने भी लगाए हैं। चोकसी के वकीलों का कहना है कि इस मामले में इस बात पर सुनवाई होनी चाहिए कि चोकसी को यहां लाया कैसे गया। 

यह भी पढ़ें : मेहुल चोकसी को भारत लाने के लिए डोमिनिका पहुंचा भारतीय विमान

चोकसी के वकीलों ने कोर्ट से कहा कि चूंकि चोकसी एंटीगुआ का नागरिक है, इसलिए उसे भारत को सौंपे जाने का कोई सवाल नहीं है। लेकिन एंटीगुआ सरकार ने चोकसी की याचिका को खारिज करने की अपील की है। एंटीगुआ सरकार ने चोकसी को भारत प्रत्यर्पित करने की मांग की है।दूसरी तरफ भारत से जांच एजेंसियों की एक टीम प्रत्यर्पण के सारे कागजात लेकर डोमिनिका गई हुई है। टीम का कहना है कि चूंकि चोकसी के खिलाफ इंटरपोल का नोटिस जारी है, और वह अभी भी भारत का नागरिक है। 

यह भी पढ़ें : डोमिनिका में पकड़ा गया भगोड़ा कारोबारी मेहुल चोकसी, क्यूबा जाने के प्रयास में था

मेहुल चोकसी 2018 में सामने 13,500 करोड़ के पीएनबी घोटाले का आरोपी है। घोटाले के सामने आने के बाद ही चोकसी भारत से फरार हो गया था। चोकसी ने एंटीगुआ की नागरिकता हासिल की थी, और वह एंटीगुआ में ही इतने सालों से रह रहा था। लेकिन बीते 23 मई को चोकसी के एंटीगुआ से लापता होने की खबर मिली। चोकसी के लापता होने के बाद भगोड़ा कारोबारी डोमिनिका में मिला। चोकसी के शरीर पर चोट के निशान भी मिले। अब इस पूरे मामले की सुनवाई डोमिनिका की अदालत कर रही है। जिसमें आज चोकसी के भाग्य का फैसला होना है।