अफगानिस्तान में नर्क बनी जिंदगी, बिना सिर ढंके बाहर आने पर मारी गोली, एयरपोर्ट पर मासूमों के साथ क्रूरता

तालिबानी तानाशाही शुरू: एयरपोर्ट पर महिला और बच्चों के साथ क्रूरता की रूह कंपाने वाली तस्वीरें, आतंकियों ने टाइट कपड़े और हाइ हिल्स पहनने पर लगाया पर बैन

Updated: Aug 18, 2021, 05:40 PM IST

अफगानिस्तान में नर्क बनी जिंदगी, बिना सिर ढंके बाहर आने पर मारी गोली, एयरपोर्ट पर मासूमों के साथ क्रूरता
Photo Courtesy : Twitter

काबुल। अफगानिस्तान में तालिबानी हुकूमत की वापसी के बाद लोगों की जिंदगी नर्क से भी बदतर हो गई है। तालिबानी आतंकी शांति बनाए रखने के कल किए वादे से मुकर चुके हैं। काबुल से विचलित करने वाली कुछ तस्वीरें सामने आई है, जिसमें तालिबानियों की क्रूरता को देखा जा सकता है। तालिबानी आतंकियों ने आज काबुल एयरपोर्ट के बाहर महिलाओं और मासूम बच्चों पर नुकीले हथियारों से बेरहमी से वार किया।

काबुल से मिल रही खबरों के मुताबिक तालिबानी लड़ाकों ने एयरपोर्ट से भीड़ को वापस भेजने के लिए फायरिंग की थी। इसके बाद नुकीले हथियारों से बच्चों और महिलाओं पर बेरहमी से वार किया। लॉस एंजिलिस टाइम्स के रिपोर्टर मार्कस यैम ने ट्विटर पर इस दौरान की कुछ तस्वीरें ट्वीट की हैं और जिसे देख पाना मुश्किल है। 

फॉक्स न्यूज़ ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि तालिबानी लड़ाके जहां मर्जी वहां ताबड़तोड़ गोलियां बरसा रहे हैं। चैनल के मुताबिक तखर प्रांत में मंगलवार को एक महिला को तालिबानी आतंकियों में सिर्फ इसलिए मार डाला, क्योंकि वह घर से बाहर बिना सिर ढके दिखी थी। उधर तालिबान ने कल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दुनिया को दिखाने के लिए कहा था कि महिलाओं को जॉब करने के अलावा सभी चीजों की आजादी है। 

यह भी पढ़ें: तालिबानी आतंकियों के समर्थन में खुलकर सामने आया पाकिस्तान, इमरान बोले, उन्होंने गुलामी की बेड़ियां तोड़ी है

हालांकि, शरीयत की आड़ में तालिबान के द्वारा महिलाओं के साथ अमानवीयता की जा रही है। कल तालिबान के प्रेस कॉन्फ्रेंस के थोड़ी देर बाद ही अफगानिस्तान के सरकारी न्यूज़ चैनल से महिला एंकर को निकाल दिया गया। उसकी जगह पर तालिबानी प्रवक्ता को एंकरिंग करने का काम दे दिया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक महिलाओं और लड़कियों को जॉब करने या पढ़ाई करने से मना कर दिया गया है।

टाइट कपड़े और हाइ हिल्स पहनने पर बैन

तालिबान ने अफगानिस्तान में महिलाओं के लिए जो नियम थोपे हैं, उसमें टाइट कपड़े पहनना और हाई हिल्स वाले सैंडल्स पर बैन लगा दी गई है। महिलाओं को बुरका पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। वहीं, महिलाएं तस्वीरें नहीं खिंचवा सकती हैं। ऐसे करने पर उन्हें सार्वजनिक रूप से तबतक पीटा जाएगा जबतक उनकी मौत नहीं हो जाती। महिलाएं यदि घर की खिड़कियों और दरवाजे पर दिखीं तो उनके नाक-कान काटकर मरने के लिए छोड़ दिया जाएगा। इतना ही नहीं नेल पेंट लगाने पर उंगली काटने की सजा है।