राजधानी भोपाल फिर हुई शर्मसार, स्कूली बस में साढ़े 3 साल की मासूम से दुष्कर्म, महिला अटेंडर भी थी मौजूद

नर्सरी में पढ़ने वाली साढ़े तीन साल की एक मासूम बच्ची के साथ ड्राइवर ने स्कूल बस के भीतर शर्मनाक घटना को अंजाम दिया, इस घटना के बाद राजधानी के अभिभावक अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर डरे हुए हैं

Updated: Sep 13, 2022, 04:52 PM IST

राजधानी भोपाल फिर हुई शर्मसार, स्कूली बस में साढ़े 3 साल की मासूम से दुष्कर्म, महिला अटेंडर भी थी मौजूद

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में एक मासूम बच्ची से रेप की शर्मनाक घटना सामने आई है। नर्सरी में पढ़ने वाली साढ़े तीन साल की मासूम के साथ ड्राइवर ने स्कूल बस के भीतर दुष्कर्म किया। हैरानी की बात यह है कि इस दौरान बस में महिला अटेंडर भी मौजूद थी, जिसे इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए ही रखा गया था। मामले में पुलिस ने बस चालक और एक महिला अटेंडेंट को गिरफ्तार किया है।

 पुलिस ने जानकारी के देते हुए बताया कि बच्ची नीलबड़ स्थित बिलाबॉन्ग हाई इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ती है। बीते हफ्ते एक दिन बच्ची जब स्कूल से वापस घर लौटी तो उसके कपड़े बदले हुए थे। ये देख मां हैरान हुई। बाद में उन्हें बच्ची के प्राइवेट पार्ट्स पर खरोंच के निशान भी नजर आए। शक हुआ तो उन्होंने बच्ची से पूछा कि आपको कोई बैड टच करता है तो बच्ची ने बस के ड्राइवर की करतूतों के बारे में बताया।

यह भी पढ़ें: MP: सड़क हादसे में घायल को लेने नहीं आई एंबुलेंस, JCB के पंजे पर लिटाकर पहुंचाया अस्पताल

इसके बाद परिजनों ने स्कूल प्रबंधन से संपर्क किया और बाद में घटना की शिकायत पुलिस कमिश्नर से की। पुलिस ने आरोपी बस ड्राइवर को हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। उस पर दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। साथ ही बस की दीदी से पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने बच्ची का मेडिकल भी करवाया है। आरोपी ड्राइवर की उम्र 32 साल बताई जा रही है। वह दो बच्चों का बाप भी है।

मासूम से दरिंदगी की इस घटना बाद छोटी बच्चियों के माता पिता डरे हुए हैं। मध्य प्रदेश के परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने इस घटना को लेकर कहा कि अब से सभी स्कूल बसों की मासिक जांच होगी। सीसीटीवी कैमरे भी चेक किए जाएंगे। हर बस में महिलाकर्मी का होना अनिवार्य किया जाएगा। साथ ही इसी महीने से सभी बसों में पैनिक बटन भी लगाया जाएगा।

 वहीं गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मामले को कथित रूप से छिपाने के लिए स्कूल प्रबंधन की भूमिका की भी जांच की जाएगी। पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। महिला और शर्मनाक धटना को अंजाम देने वाला बस चालक पुलिस की गिरफ्त में है। आरोपियों को सख्त से सख्त सज़ा दी जाएगा।