शिक्षा मंत्री के भाई पर बैंककर्मी की पिटाई का आरोप, भोपाल के बाजार बंद कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग

शाजापुर में बैंककर्मी की पिटाई के विरोध में भोपाल के बाजार बंद, सिंधी सेंट्रल पंचायत के आह्वान पर आधा दिन बंद रहीं दुकानें, मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंप कर शिक्षा मंत्री इंदरसिंह परमार के भाई पर FIR की मांग

Updated: Sep 25, 2021, 05:16 PM IST

शिक्षा मंत्री के भाई पर बैंककर्मी की पिटाई का आरोप, भोपाल के बाजार बंद कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग
Photo Courtesy: Naidunia

भोपाल। शाजापुर में बैरागढ़ निवासी बैंक कर्मचारी से मारपीट का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। भोपाल के व्यापारियों ने बैरागढ़, पुराना भोपाल, न्यूमार्केट एमपी नगर समेत शहर भर के कपड़ा, बर्तन और सराफा बाजार बंद रखे। शाजापुर में शिक्षा मंत्री के रिश्तेदार द्वारा बैरागढ़ निवासी बैंककर्मी की मंत्री के विरोध में यह बंद रखा गया। सिंधी सेंट्रल पंचायत की अगुवाई में सिंधी समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री आवास का घेराव कर ज्ञापन सौंपा।

दरअसल शाजापुर के पोचानेर गांव में 15 जुलाई को सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कर्मचारी नरेश फूलवानी से मारपीट की गई थी। मारपीट का आरोप प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के रिश्तेदार पर लगा है। फरियादी का आरोप है कि पुलिस ने दोषी की जगह फरियादी के खिलाफ ही मामला दर्ज कर लिया है। जिसे लेकर सिंधी समाज में रोष है।

शाजापुर स्थित पोचानेर शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार का गृह गांव है। बताया जा रहा है कि बैंक में पासबुक बनाने के लिए 150 रु को लेकर विवाद की स्थिति बन गई थी। बैंककर्मी नरेश फूलवानी और मंत्री के 70 वर्षीय भाई हरिप्रसाद परमार में नोंकझोंक हो गई थी। हरिप्रसाद ने आरोप लगाया है कि बैंककर्मी ने उन्हें धक्का देकर बाहर कर दिया था। जबकि बैंककर्मी ने ऐसी किसी बात से इनकार किया था। इस मामले में बैंककर्मी नरेश पर ही मामला दर्ज कर जेल भेजा गया।

MP: मंत्री के भाई पर बैंककर्मी को दौड़ा-दौड़ाकर पीटने का आरोप, पूछने पर तिलमिलाए मंत्री- बोले रखो फोन

वहीं इस घटना के चंद दिनों में ही एक वीडियो सामने आया था, जिसमें गांव वालों द्वारा बैंककर्मी नरेश दौड़ा-दौड़ाकर पीटा गया था। शिक्षामंत्री का रिश्तेदार होने की वजह से पुलिस ने इस मामले में कोई एक्शन नहीं लिया। जिसे लेकर सिंधी समाज में रोष है।  सिंधी सेंट्रल पंचायत समेत कई संगठनों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बंगले का घेराव कर दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की।  

15 जुलाई की इस घटना के बाद दोषियों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस मामले में कार्रवाई की मांग को लेकर शाजापुर में कलेक्टर-एसपी को भी ज्ञापन दिया जा चुका है। अब भोपाल में बाजार बंद कर सिंधी समाज मुख्यमंत्री से मांग कर रहे हैं कि शिक्षा मंत्री के भाई पर कार्रवाई करें।