सिंधिया पहुंचे दुबई, कांग्रेस बोली- चिट्ठी न कोई संदेश, जाने वो कौन सा देश, जहां तुम चले गए

कोरोना काल में बीजेपी के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के विदेश जाने की खबर, कांग्रेस बोली- देश में उतरने के लिए सड़कों की कमी थी इसलिए अब दुबई में जनसेवा करेंगे

Updated: May 29, 2021, 05:45 PM IST

सिंधिया पहुंचे दुबई, कांग्रेस बोली- चिट्ठी न कोई संदेश, जाने वो कौन सा देश, जहां तुम चले गए
Photo Courtesy: The Economic times

ग्वालियर। मध्यप्रदेश में कोरोना और ब्लैकफंगस के कहर के बीच बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के विदेश जाने की खबर है। रिपोर्ट्स के मुताबिक सिंधिया चार दिन पहले प्राइवेट जेट से दुबई के लिए रवाना हो गए हैं। सिंधिया के विदेश जाने की जानकारी सामने आने के बाद ग्वालियर में एक पोस्टर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें जगजीत सिंह द्वारा गाई मशहूर गजल "चिट्ठी न कोई संदेश, जाने वह कौन सा देश, जहां तुम चले गए" लिखा हुआ है।

सिंधिया के गुमशुदगी के इस पोस्टर को ग्वालियर से कांग्रेस विधायक प्रवीण पाठक ने भी साझा किया है। पाठक ने शायराना अंदाज में तंज कसते हुए ट्वीट किया, 'मत ढूंढो इन्हें संकट के समय मध्य प्रदेश में, सिंधिया जी अपने निजी कार्यों से हैं विदेश में। अपने शहर में जब सब कुछ सामान्य हो जाएगा, इनका कारवाँ तभी यहाँ आएगा। आप तो बैठिए दुबई, जनता है भरोसे राम के, अभी चुनाव थोड़ी है अभी आम लोग आपके क्या काम के।' 

कांग्रेस नेता ने जो पोस्टर साझा किया है इसमें सबसे ऊपर गुमशुदा की तलाश लिखा हुआ है और सिंधिया को बड़े-बड़े अक्षरों में लापता बताया गया है। मध्यप्रदेश की समस्त जनता को निवेदक बताने वाले इस पोस्टर में लिखा गया है कि, 'महाराज कहां हो आप? भारतीय जनता पार्टी की सरकार मौत के आंकड़ें छिपा रही है। आपके उसूलों पर आंच कब आएगी, आप सड़क पर कब उतरेंगे?' इसी के साथ 80 के दशक का मशहूर गजब चिट्ठी न कोई संदेश, जाने वो कौन सा देश जहां तुम चले गए लिखा हुआ है।

यह भी पढ़ें: सिंधिया और तोमर के बीच बढ़ने लगी दूरियां, एक दूसरे का नाम तक लेने से परहेज कर रहे दोनों नेता

सिंधिया के इस दुबई यात्रा पर निशाना साधते हुए मध्यप्रदेश कांग्रेस ने कहा है कि जनता को घर से भी निकलने पर लाठियां पड़ती है, और महाराज बहादुर दुबई की सैर पर चले गए। मध्यप्रदेश कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, 'जनता चौखट से बाहर निकले तो डंडा, —और ये महाराज बहादुर दुबई की सैर पर..? शिवराज जी, आपके नेताओं को जनता से कोई सरोकार क्यों नहीं बचा..?भारत में उतरने को सड़कें थीं कम, इसलिये दुबई में जनसेवा करेंगे हम।' 

प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतु पटवारी ने इस मामले पर तंज कसते हुए कहा, 'अखबारों में छपा है की भारत में कोरोना से मृत्यु होने का डर है इस वजह से पुराने रजवाड़े और उद्योगपति विदेश चले गए।' बहरहाल इस मामले पर सिंधिया की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। बीजेपी नेता के कार्यालय ने भी इस खबर का खंडन नहीं किया है। हालांकि, सिंधिया के सोशल मीडिया प्रोफाइल पर भी ऐसी कोई जानकारी नहीं है जिससे इस बात की पुष्टि की जा सके कि वह दुबई में हैं।

यह भी पढ़ें: तो क्या महज़ एक बंगला पाने के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गिरा दी थी जनता की चुनी हुई सरकार

सिंधिया के विदेश जाने की बात सामने आने के बाद लोगों के मन में एक यह सवाल भी है कि जब अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगे हुए हैं तो सिंधिया दुबई कैसे गए? दरअसल, एयर बबल के तहत अंतरराष्ट्रीय उड़ानें चल रही हैं। इस व्यवस्था के तहत चयनित देशों के बीच द्विपक्षीय विमानों का संचालन हो रहा है। भारत ने अमेरिका, यूनाइटेड अरब एमिरेट्स, केन्या, भूटान और फ्रांस समेत 27 देशों के साथ एयर बबल समझौते किए हैं।