सीएम शिवराज का ऑन द स्पॉट सस्पेंशन, निवाड़ी कलेक्टर और ओरछा तहसीलदार को मंच से हटाया

सीएम ने ​महाराजा खेत सिंह खंगार की जयंती पर आयोजित गढ़कुंडार महोत्सव मंच से ही निवाड़ी कलेक्टर और ओरछा के तहसीलदार को हटाने का ऐलान किया।

Updated: Dec 28, 2022, 06:15 PM IST

सीएम शिवराज का ऑन द स्पॉट सस्पेंशन, निवाड़ी कलेक्टर और ओरछा तहसीलदार को मंच से हटाया

निवाड़ी। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों मंच से ही अधिकारियों को सस्पेंड करने का आदेश जारी कर रहे हैं। बुधवार को निवाड़ी में उन्होंने मंच से ही कलेक्टर और ओरछा के तहसीलदार को हटाने का ऐलान किया। सीएम ने कहा कि ये अधिकारी अपेक्षाओं को पूरा नहीं कर रहे थे।

दरअसल, सीएम शिवराज सिंह बुधवार को गढ़कुंडार महोत्सव में शामिल होने निवाड़ी आए थे। यहां मंच से ही उन्होंने निवाड़ी जिला कलेक्टर तरुण भटनागर और ओरछा तहसीलदार संदीप शर्मा को हटाने के निर्देश दिए। सीएम ने मंच से कहा, 'एक डिंडौरी के कलेक्टर हैं विकास मिश्रा। वे दिन रात मेहनत करते हैं। लेकिन निवाड़ी जिले के कलेक्टर ने अपेक्षाओं को पूरा नहीं किया है। कई तरह की शिकायत मिली है। मैं तत्काल प्रभाव से कलेक्टर को हटाता हूं।'

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि निवाड़ी की जनता से मुझे गंभीर शिकायतें मिली हैं। मैं किसी का अपमान नहीं करता हूं, जो शासकीय कर्मचारी अच्छा काम करते हैं, मैं उसका स्वागत सत्कार करता हूं। निवाड़ी में मुझे जमीनों की गड़बड़ की शिकायतें मिली हैं। अफसरों के खिलाफ शासकीय भूमि के क्रय-विक्रय में हेरफेर की शिकायत मिली थी। इसलिए कार्य में लापरवाही बरतने पर कार्रवाई की।

बता दें कि पिछले चार महीने से सीएम शिवराज लगातार "ऑन द स्पॉट सस्पेंशन" कर रहे हैं। सीएम जिस भी जिले में जाते हैं वहां कोई न कोई अधिकारी उनके गुस्सा का शिकार बनता है। विपक्षी दल कांग्रेस का कहना है कि ये मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की बौखलाहट है। पीसीसी चीफ कमलनाथ ने हाल ही में कहा था कि, 'शिवराज दिखाने के लिए नाटक-नौटंकी करते हैं। ये अब बौखलाए हुए हैं, कोई न कोई उपाय ढूंढ रहे हैं मीडिया में रहने के लिए।