Congress: मंत्री अरविंद भदौरिया ने आपराधिक प्रकरण की जानकारी छिपाई

Bye election: पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा और पूर्व विधायक हेमंत कटारे ने बीजेपी नेताओं पर लगाए गंभीर आरोप

Updated: Sep 05, 2020 12:34 AM IST

Congress: मंत्री अरविंद भदौरिया ने आपराधिक प्रकरण की जानकारी छिपाई

भोपाल। पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा और पूर्व विधायक हेमंत कटारे ने मंत्री अरविंद भदौरिया पर आरोप लगाया कि इन्होंने चुनाव आयोग के समक्ष जो शपथ पत्र पेश किया है उसमें अपनी संपत्ति और आपराधिक प्रकरण की जानकारी छिपाई है। 2008, 2013 एवं 2018 के विधानसभा चुनाव में भदौरिया ने जो शपथ पत्र चुनाव आयोग को दिए हैं उसमें सिर्फ 10 हजार रुपए नकदी होने की बात कही है। वहीं संपत्ति के कॉलम में निरंक लिखा है।

पूर्व विधायक हेमंत कटारे ने कहा कि यदि भदौरिया के पास कोई संपत्ति नहीं है तो उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के ग्राम रसोड़ा में उनके पिता की जमीन के दस्तावेज किसके हैं। 2009 में चारों भाइयों के जमीन के नामांतरण हैं। मंत्री अरविंद भदौरिया द्वारा जानकारी छिपाने और झूठा शपथ पत्र देने की शिकायत की जायेगी। कटारे ने कहा कि इस मामले में हम चुनाव आयोग जाएंगे और यदि जरूरत पड़ी तो कोर्ट की शरण भी लेंगे। भदोरिया के ऊपर कानूनी अपराध दर्ज होना चाहिए वही अरविंद भदोरिया पर आयकर विभाग को छापे की कार्रवाई करना चाहिए।

पत्रकारों से चर्चा में पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने कहा कि बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय के भांजे दामाद एआरटीओ सुनील तिवारी के यहां वर्ष 2013 में आयकर विभाग का छापा पड़ा था। तब करोड़ों की बेनामी संपत्ति के प्रमाण मिले थे। खुलासा हुआ था कि बीजेपी नेता किस तरह परिवहन के पैसों की बंदरबांट करते हैं। इसमें कैलाश विजयवर्गीय, तत्कालीन परिवहन मंत्री जगदीश देवड़ा, भूपेंद्र सिंह आदि के नाम सामने आए थे। एक कर्मचारी सोनू अग्रवाल के यहां सारे हिसाब होते थे।जिस दिन सोनू अग्रवाल सामने आएगा और सही पूछताछ होगी सबके काले चेहरे बेनकाब होंगे। 

सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि कमलनाथ सरकार के समय एक भी भ्रष्टाचार का आरोप कोई लगा के दिखा दे वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया पर हाल ही में जमीन कब्जाने के अनेकों मामले सामने आये हैं। वहीं अरविंद भदौरिया पर निशाना साधते हुये कहा कि जिन्होने अपने आप को गरीब बताते  थे वे आज मर्सडीज जैसी मंहगी कारों में सफर कर रहे है।