लोकार्पण कार्यक्रम में नहीं भेजा गया साध्वी प्रज्ञा को बुलावा, उच्च शिक्षा मंत्री को टालना पड़ा कार्यक्रम

सीहोर में शासकीय कन्या महाविद्यालय और चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय में विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण होना था, दोनों कार्यक्रमों में उच्च शिक्षा मंत्री मुख्य अतिथि थे, लेकिन आमंत्रण में स्थानीय सांसद साध्वी प्रज्ञा का नाम नहीं था, जिसके बाद दोनों ही कार्यक्रमों को अचानक ही टाल दिया गया

Publish: Jan 11, 2022, 12:04 PM IST

लोकार्पण कार्यक्रम में नहीं भेजा गया साध्वी प्रज्ञा को बुलावा, उच्च शिक्षा मंत्री को टालना पड़ा कार्यक्रम

भोपाल। सीहोर में मंगलवार को आयोजित होने वाले लोकार्पण कार्यक्रमों को अचानक टाल दिया गया है। लोकार्पण कार्यक्रमों में स्थानीय सांसद साध्वी प्रज्ञा को बुलावा नहीं भेजा गया था। जिसके बाद उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने अचानक ही लोकार्पण कार्यक्रमों को स्थगित कर दिया गया।

सीहोर में शासकीय कन्या महाविद्यालय और चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय में करोड़ों की लागत की परियोजनाओं का लोकार्पण किया जाना था। लोकार्पण कार्यक्रम में उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होने वाले थे। मंत्री मोहन यादव के अलावा स्थानीय विधायक सुदेश राय और कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर भी कार्यक्रम में शिरकत करने वाले थे। 

यह भी पढ़ें : MP में एक दिन में कोरोना के 2300 से अधिक मामले, 22 वर्षीय युवती की हुई मौत

लोकार्पण के लिए छापे गए आमंत्रण कार्ड के मुताबिक स्थानीय विधायक सुदेश राय कार्यक्रम की अध्यक्षता करने वाले थे। वहीं जिला कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर लोकार्पण कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि थे। लेकिन आमंत्रण कार्ड और अनावरण पट्टिका तक में भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा का कहीं भी नाम उल्लेखित नहीं था। जिसके बाद दोनों ही कार्यक्रमों को अचानक स्थगित कर दिया गया।

यह भी पढ़ें : खतरा दिखाकर लोगों में डर पैदा करता है संघ, अपराध में पकड़ाए जाने पर कार्यकर्ताओं से झाड़ लेता है पल्ला: दिग्विजय सिंह

कन्या महाविद्यालय की प्रिंसिपल सुमन तनेजा का एक बयान मीडिया में सामने आया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि लोकार्पण पट्टी में हमने क्षेत्रीय सांसद का नाम जोड़ने की कवायद शुरू कर दी थी। लेकिन अचानक ही कार्यक्रम को निरस्त कर दिया गया। वहीं चंद्रशेखर आजाद कॉलेज की प्राचार्य उर्मिला सलूजा ने कहा कि लोकार्पण कार्यक्रम को निरस्त करने का कारण हमें नहीं पता है, हां लेकिन यह बात सच है कि आमंत्रण पत्र में स्थानीय सांसद का नाम नहीं था।