MP By Election 2020: इमरती  देवी और कंसाना के चुनाव क्षेत्रों में हिंसा, बीजेपी-कांग्रेस के समर्थकों में टकराव

डबरा, सुमावली उपचुनाव 2020: डबरा में इमरती देवी और सुरेश राजे के समर्थकों की झड़प में दो घायल, सुमावली में कंसाना की सभा के बाद झंडा लगाने पर हुआ विवाद टकराव में तब्दील, एक जख्मी

Updated: Oct 27, 2020, 09:28 AM IST

MP By Election 2020: इमरती  देवी और कंसाना के चुनाव क्षेत्रों में हिंसा, बीजेपी-कांग्रेस के समर्थकों में टकराव
Photo Courtesy: Bhaskar

डबरा/सुमावली। मध्य प्रदेश उपचुनाव की सियासी जंग अब जुबानी वार-पलटवार से आगे पथराव और मारपीट तक पहुंच गई है। जिन 28 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव हो रहे हैं, उनमें कम से कम दो चुनाव क्षेत्रों से तो ऐसी ही खबरें आई हैं। ये दो चुनाव क्षेत्र हैं इमरती देवी का डबरा और ऐदल सिंह कंसाना का सुमावली।

डबरा विधानसभा क्षेत्र में शिवराज सरकार की मंत्री इमरती देवी बीजेपी की उम्मीदवार हैं, तो कांग्रेस ने उनके रिश्तेदार सुरेश राजे को टिकट दिया है। लेकिन दो रिश्तेदारों की यह सियासी जंग उस समय शारीरिक मारपीट में बदल गई जब दोनों के समर्थक और कार्यकर्ता जनसंपर्क के दौरान आपस में भिड़ गए। इस झड़प में दो लोग घायल भी हो गए। रविवार की ये घटना डबरा विधानसभा क्षेत्र में पड़ने वाले सिरोही गांव की है। आरोप है कि यहां बीजेपी और कांग्रेस के कार्यकर्ता और समर्थक अपने-अपने उम्मीदवारों के लिए जनसंपर्क कर रहे थे, तभी किसी ने आपस में छींटाकशी शुरू कर दी। जुबानी टिप्पणियों से शुरू हुआ यह विवाद जल्द ही इतना बढ़ा कि आपस में मारपीट हो गई। इस झगड़े में दो लोग घायल भी हो गए। घटना के बाद डबरा से कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे, पूर्व मंत्री विजयलक्ष्मी साधो और हिना कांवरे थाने में जाकर धरने पर बैठ गए। पुलिस ने दोनों पक्षों की तरफ से मुकदमा दर्ज कर लिया है।

सुमावली मे झंडा लगाने पर झड़प

बीजेपी-कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और समर्थकों में आपसी झगड़े की घटना सुमावली विधानसभा क्षेत्र में भी हुई है। इलाके के खाड़ौली गांव में बीजेपी उम्मीदवार ऐदल सिंह कंसाना की चुनावी सभा के बाद गांव में झंडा लगाने के मुद्दे पर बीजेपी और कांग्रेस के कार्यकर्तां-समर्थकों में झगड़ा हो गया। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक आपसी झगड़ा बढ़ने के दौरान ही बीजेपी उम्मीदवार तो वहां से खिसक लिए, लेकिन दोनों तरफ के कार्यकर्ताओं का आपसी टकराव जल्द ही पथराव तक पहुंच गया। इस बवाल में एक युवक के घायल होने की खबर है। बताया जा रहा है कि बवाल की खबर मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन अब तक मिली जानकारी के मुताबिक एफआईआर दर्ज नहीं की गई है।

यह भी पढ़ें: एदल सिंह कसाना ने गिराई कमलनाथ सरकार, शपथ के दिन ही शुरू हो गई थी साज़िश

बताया ये भी जा रहा है कि दरअसल इस आपसी झगड़े की शुरुआत एक वायरल वीडियो की वजह से हुई। इस वीडियो में एक युवक अपने समुदाय के प्रत्याशी की जीत का दावा करते हुए दूसरी जाति के लोगों को जूते पड़ने की बात कर रहा था। इस वीडियो की वजह से पैदा हुआ आपसी तनाव ही इतना बढ़ा कि झंडा लगाने जैसी मामूली बात पर मारपीट और पथराव की नौबत आ गई।