कांग्रेस नेता पीसी शर्मा और पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान पर मुकदमा दर्ज, शासकीय कार्य में बाधा डालने का आरोप

जेपी अस्पताल में मरीज़ की संदेहास्पद मौत से जुड़ा है मामला, मरीज़ की मौत के बाद पीसी शर्मा और गुड्डू चौहान शनिवार को जेपी अस्पताल में डॉक्टर से बात करने पहुंचे थे, तब मरीज़ का इलाज करने वाले डॉक्टर योगेंद्र श्रीवास्तव ने मरीज़ की मौत पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया था

Publish: Apr 12, 2021, 07:16 PM IST

कांग्रेस नेता पीसी शर्मा और पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान पर मुकदमा दर्ज, शासकीय कार्य में बाधा डालने का आरोप

भोपाल। जेपी अस्पताल में शनिवार रात हुई एक मरीज़ की संदेहास्पद मौत मामले में कांग्रेस नेता पीसी शर्मा और पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। दोनों ही नेताओं के खिलाफ हबीबगंज थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। दोनों ही नेताओं के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा डालने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।  

 यह भी पढ़ें : मरीज़ की मौत के बाद इस्तीफा देने वाले डॉक्टर ने अपना मन बदला, स्वास्थ्य मंत्री के कहने पर अपना इस्तीफा लिया वापस

शनिवार दिन में जेपी अस्पताल में मरीज़ की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत की सूचना मिलने पर पूर्व मंत्री पीसी शर्मा और पूर्व पार्षद गुड्डू चौहान जेपी अस्पताल पहुंचे थे। परिजनों का आरोप था कि अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के कारण मरीज़ की जान गई है। लिहाज़ा दोनों ही नेता अस्पताल के डॉक्टर योगेंद्र श्रीवास्तव से बात करना चाह रहे थे। लेकिन योगेंद्र श्रीवास्तव मरीज़ की मौत के मामले में कुछ भी कहने से बच रहे थे।  

 यह भी पढ़ें : जेपी अस्पताल में मरीज़ की मौत पर परिजनों का आरोप, अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही से गई जान

डॉक्टर के इसी आनाकानी भरे रवैये के कारण गुड्डू चौहान योगेंद्र श्रीवास्तव पर भड़क उठे। पीसी शर्मा ने भी डॉक्टर को इस पूरे मामले पर बात करने के लिए ज़ोर दिया। लेकिन डॉक्टर ने मामले पर कुछ भी कहने के बजाय गुस्से में आकर इस्तीफ़ा दे दिया। इसी प्रकरण में दोनों नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं गुस्से में अपना इस्तीफ़ा देने वाले डॉक्टर योगेंद्र श्रीवास्तव ने स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी के कहने पर अपना इस्तीफ़ा वापस ले लिया है।