राजधानी भोपाल फिर शर्मसार, एक ही दिन में दुष्कर्म के चार केस, बुजुर्ग महिला से लेकर नबालिग तक शिकार

भोपाल के चार अलग-अलग थानों में गुरुवार को दुष्कर्म के चार मामले सामने आए, पीड़ितों में बुजुर्ग महिला से लेकर नाबालिग बच्ची तक शामिल है, नबालिग को बेहोश कर उसके साथ ज्यादती की 

Updated: Apr 15, 2022, 01:01 PM IST

राजधानी भोपाल फिर शर्मसार, एक ही दिन में दुष्कर्म के चार केस, बुजुर्ग महिला से लेकर नबालिग तक शिकार
Photo Courtesy: TOI

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल एक बार फिर शर्मसार हुई है। यहां 24 घंटे में दुष्कर्म के चार मामले सामने आए हैं। ज्यादती की शिकार इन पीड़िताओं में 17 साल की नाबालिग बच्ची से लेकर 53 साल की बुजुर्ग महिला तक शामिल हैं। इनमें एक मामले में आरोपी ने घर में घुसकर किशोरी को बेहोश किया और उसके साथ कुकर्म किया। कांग्रेस ने इन घटनाओं को लेकर सीएम चौहान से कहा है कि नफरत फैलाने से फुर्सत मिल गई हो तो बेटियों की आबरू भी बचाइए। 

दरअसल, रेप के ये चारों मामले राजधानी के अलग-अलग क्षेत्रों से हैं। चारों ही मामलों में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। पहला मामला खजूरी सड़क थाने का है। पुलिस के मुताबिक 17 वर्षीय किशोरी की पड़ोस में रहने वाले अरविंद से दोस्ती थी। किशोरी जब मंगलवार-बुधवार की दरम्यानी रात सो रही थी तो देर रात अरविंद उसके कमरे में पहुंचा और उसे बेहोश कर दिया। किशोरी को जब होश आया तो उसे अपने साथ दुष्कर्म होने का पता चला। इसकी जानकारी उसने परिजनों को दी, जिसके बाद परिजन उसे लेकर थाने पहुंचे और अरविंद के खिलाफ केस दर्ज कराया। 

यह भी पढ़ें: जिंदा जलाने पर उतारू थे पड़ोसी, पुलिस ने भी बेरहमी से पीटा: रिटायर्ड मुस्लिम ASI की दर्दनाक दास्तां

दूसरा मामला बैरागढ़ का है। बैरागढ़ पुलिस के मुताबिक पीड़िता 53 वर्ष की बुजुर्ग महिला है। वह मजदूरी करती है। वह पिछले दो दशकों से गल्ला व्यापारी अजीत को जानती है। पहले वह व्यापारी के यहां मजदूरी करती थी। महिला का आरोप है कि पिछले दो साल से अजीत उसका शारीरिक शोषण करने लगा। पुलिस ने व्यापारी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

तीसरा मामला कोलार इलाके का है। कोलार पुलिस के मुताबिक टीटी नगर निवासी 34 वर्षीय महिला की पहचान 12 साल पहले जावेद इकबाल से हुई थी। जावेद तब से ही महिला का शारीरिक शोषण कर रहा था। दोनों की एक बेटी भी है। महिला का आरोप है कि जब वह शादी करने का बोलती तो जावेद मारपीट कर उसे चुप करा देता था। इस काम में उसका साथ एक महिला मित्र भी देती थी। 6 महीने पहले जावेद उसे कोलार में रहने वाली महिला मित्र के घर लेकर गया और वहां जबरन उसके साथ दुष्कर्म किया और जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने जावेद और महिला मित्र के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें: भोपाल के केरवा डैम में डूबे तीन स्कूली छात्रों का शव बरामद, सीएम चौहान ने जताया दुख

चौथा मामला बागसेवनिया थाने का है। पुलिस के मुताबिक 28 वर्षीय पीड़िता घरेलू काम करती है। वर्ष 2015 में उसके एक रिश्तेदार की तबीयत बिगड़ी तो उसे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। युवती रिश्तेदार की देखरेख के लिए अस्पताल जाती थी, जहां उसकी पहचान मेडिकल स्टोर संचालक निशांत जैन से हुई थी। बाद में दोनों के बीच दोस्ती हो गई और निशांत युवती के घर भी आने-जाने लगा। युवती ने पुलिस को बताया कि अगस्त 2015 में वह एक दिन घर पर अकेली थी, तभी निशांत ने अकेला पाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। युवती के विरोध करने पर उसने जल्द की शादी करने का झांसा दिया। उसके बाद वह लगातार शारीरिक शोषण करता रहा और पिछले दिनों शादी करने से इंकार कर दिया।