तू मुझे मत सिखा, दफा हो जा यहां से, महिला SDM को धमकाने गए थे BJP के पूर्व MLA, गुस्सा देख उल्टे पांव भागे

उज्जैन से 50 किलोमीटर दूर बड़नगर में एसडीएम निधि सिंह ग्रामीणों की शिकायत पर पानी निकासी कराने पहुंची थी, यहां बीजेपी के पूर्व विधायक शांतिलाल धाबाई ने उन्हें डराने का प्रयास किया तो महिला अधिकारी ने उन्हें बुरी तरह लताड़ा

Updated: Jul 13, 2022, 02:08 PM IST

तू मुझे मत सिखा, दफा हो जा यहां से, महिला SDM को धमकाने गए थे BJP के पूर्व MLA, गुस्सा देख उल्टे पांव भागे

उज्जैन। सत्ताधारी दल के नेताओं द्वारा अधिकारियों को डराना, धमकाना और उनके साथ अभद्रता करना आम हो गया है। अधिकांश अधिकारी इस तरह के व्यवहार के आदि हो जाते हैं। लेकिन मध्य प्रदेश के उज्जैन की एक महिला एसडीएम ने कुछ ऐसा किया जो देशभर के अधिकारियों के लिए एक मिसाल है। दरअसल, बीजेपी के पूर्व विधायक महिला एसडीएम को धमकाने पहुंचे थे, लेकिन एसडीएम ने उन्हें ऐसी लताड़ लगाई कि वे उल्टे पांव भाग निकले।

मामला उज्जैन से 50 किलोमीटर दूर बड़नगर का है। यहां बंगरेड ग्राम में बारिश के बाद जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो गई थी। ग्रामीणों के घरों में पानी घुस आया था। चार दिनों से ग्रामीण बेहद परेशान थे और उन्होंने एसडीएम निधि सिंह से इसकी शिकायत की थी। सूचना मिलते ही एसडीएम निधि सिंह दल बल के साथ ग्रामीणों की मदद करने वहां पहुंच गईं।

यह भी पढ़ें: कब तक भाजपा की सेवा करोगे, चंद दिनों की बात है, कांग्रेस कृषक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष ने दी IAS-IPS को चेतावनी

रिपोर्ट्स के मुताबिक मदन नागर नाम के एक व्यक्ति द्वारा पानी निकासी रोक दिया गया था जिस कारण घरों में पानी भर रहा था। एसडीएम निधि सिंह मंगलवार को पानी निकासी के रास्ते में आ रही बाधा को हटवाने पहुंची थी। वहां जब जेसीबी से अवरोध हटाया जा रहा था तभी बीजेपी के पूर्व विधायक शांतिलाल धाबाई अपने समर्थकों के साथ पहुंच गए। बीजेपी नेता ने एसडीएम को आदेश दिया कि वह पानी को दूसरी जगह से पाइप डालकर निकालें। 

निधि सिंह ने जब उनकी बातों को अनसुना कर दिया था वे अभद्रता पर उतर आए। इतना ही उन्होंने सत्ता की धौंस दिखाते हुए नौकरी से हटवाने तक की धमकी दे डाली। इस बात पर एसडीएम को भी गुस्सा आ गया। निधि सिंह ने पूर्व एमएलए को फटकारते हुए कहा कि, 'तू होता कौन है? मुझे मेरा काम मत सिखा। चल दफा हो जा यहां से।' सार्वजनिक रूप से महिला अधिकारी द्वारा फटकार लगते ही बीजेपी नेता सकपका गए और उल्टे पांव वहां से वापस लौट गए।

ग्रामीण भी इस दृश्य को देखकर हैरान थे। यह घटना पूरे इलाके में चर्चा का विषय है कि एक दबंग छवि वाले सत्ताधारी दल के नेता को सरकारी अधिकारी ने लताड़ दिया। बताया जा रहा है कि पूर्व विधायक ने निधि सिंह की शिकायत सीएम शिवराज सिंह चौहान से की है। बहरहाल, अब देखना यह होगा कि ग्रामीणों की समस्या का निपटारा करने पर उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा या सत्ताधारी दल के नेता को सबक सिखाने के लिए उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।