हिंदुओं की संख्या और ताकत कम हो गई है, हिन्दू के बिना भारत नहीं, ग्वालियर में बोले RSS चीफ

चार दिवसीय घोष शिविर में शामिल होने ग्वालियर पहुंचे हैं मोहन भागवत, बोले- अगर हिन्दू को हिन्दू रहना है तो भारत को अखंड रहना ही पड़ेगा

Updated: Nov 28, 2021, 09:36 AM IST

हिंदुओं की संख्या और ताकत कम हो गई है, हिन्दू के बिना भारत नहीं, ग्वालियर में बोले RSS चीफ
Photo Courtesy: NDTV

ग्वालियर। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में आरएसएस का घोष शिविर चलाया जा रहा है। इस चार दिवसीय शिविर में शामिल होने के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत भी ग्वालियर पहुंचे हैं। भागवत ने यहां एक दूसरे कार्यक्रम हिंदुओं की संख्या को लेकर अजीबोगरीब दावा किया है। संघ प्रमुख ने कहा कि हिंदुओं की संख्या और ताकत दोनों कम हो रही है। भागवत ने इस दौरान हिंदुओं से एकजुट रहने का आह्वान किया।

शनिवार को कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आरएसएस चीफ ने कहा, 'आप देखेंगे कि हिन्दुओं की संख्या कम हो गई है। हिन्दुओं की ताकत कम हो गई है। हिन्दुत्व का भाव कम हो गया है। अगर हिन्दू को हिन्दू रहना है तो भारत को अखंड रहना ही पड़ेगा। अगर भारत को भारत रहना है तो हिन्दू को हिन्दू रहना ही पड़ेगा।' 

मोहन भागवत ने आगे कहा कि, 'हिन्दू के बिना भारत नहीं, भारत के बिना हिन्दू नहीं रहेगा, भारत हिन्दुस्तान है, भारत और हिन्दू अलग हो नहीं सकते। हिन्दू समाज मनुष्यों का बना है, मनुष्यों को ध्यान रखना पड़ता है, देखो भारत नहीं रहा तो हम नहीं रहेंगे। यदि हिंदुओं की शक्ति कम होगी तो भारत कमजोर होगा। अगर हम हिंदुओं को देश से अलग कर देंगे तो कोई इतिहास नहीं रहेगा।'

यह भी पढ़ें: सीएम शिवराज के गृह जिले सीहोर में कर्ज से परेशान युवक ने की आत्महत्या, ट्रेन के सामने कूदकर दी जान

मोहन भागवत ने धार्मिक जनसंख्या का जिक्र करते हुए कहा कि आप अपने ही देश में देख लो कहां-कहां सामाजिक और आर्थिक अस्थिरता है? कहां-कहां देश की अखंडता और एकात्मता को खतरा है? कहां-कहां पर सामाजिक और आर्थिक समस्याएं तगड़ी हैं? आप देखेंगे वहां हिंदुओ की संख्या व शक्ति कम हो गई या हिंदुत्व के भाव कम हो गया है। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि यह 2021 का भारत है, 1947 का नहीं। बंटवारा एक बार हुआ है, दोबारा नहीं होगा। जो लोग बंटवारे का सोचते हैं वे खुद बर्बाद हो जाएंगे।

जानकारी के मुताबिक संघ प्रमुख ने ये बातें संघ से जुड़े दैनिक स्वदेश के 50 वर्ष पूरा होने पर आयोजित स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित करते हुए कही। इस दौरान मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  भी मौजूद थे और उन्होंने भी लोगों को संबोधित किया। बताया जा रहा है कि संघ प्रमुख आज शाम उस्ताद अमजद अली खां के पैतृक निवास में उनके पिता की स्मृति में बने उस्ताद हाफिज अली खान स्मृति सरोद घर का अवलोकन कर सकते है। इस दौरान अमजद अली खां के सपरिवार मौजूद रहने की संभावना है।