हबीबगंज रेलवे स्टेशन को मिली 5 स्टार GEM रेटिंग, पहली बार किसी पुनर्विकसित स्टेशन को मिला अवॉर्ड

हबीबगंज रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास का काम जनवरी 2017 में शुरू हुआ था, पीपीपी मोड पर स्टेशन के पुनर्विकास का काम शुरू हुआ था

Updated: Sep 09, 2021, 05:53 PM IST

हबीबगंज रेलवे स्टेशन को मिली 5 स्टार GEM रेटिंग, पहली बार किसी पुनर्विकसित स्टेशन को मिला अवॉर्ड

भोपाल। राजधानी भोपाल स्थित हबीबगंज रेलवे स्टेशन को GEM 5 स्टार रेटिंग मिली है। भारतीय रेल इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी पुनर्विकसित यानी रीडेवलप्ड रेलवे स्टेशन को GEM 5 स्टार रेटिंग मिली है। हबीबगंज रेलवे स्टेशन को यह रेटिंग ASSCHOM ने दी है। हबीबगंज रेलवे स्टेशन को यह रेटिंग ग्रीन, टिकाऊ और इकोफ्रेंडली होने के कारण दी गई है। 

GEM सस्टेनिबिलिटी सर्टिफिकेशन इकोफ्रेंडली बिल्डिंग डिजाइन को प्रमोट करने के उद्देश्य से दिया जाता है। ASSCHOM अपनी इस पहल के जरिए सस्टेनिबिलिटी सर्टिफिकेशन का यह अवॉर्ड स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, फैक्ट्री, कमर्शियल, रेजिडेंशियल इत्यादि बिल्डिंग को देता है।

GEM की फाइव स्टार रेटिंग पाने वाले हबीबगंज रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास का काम जनवरी 2017 में शुरू हुआ था। स्टेशन के पुनर्विकास का काम पीपीपी मोड यानी सार्वजनिक निजी भागीदारी मोड पर किया जा रहा है। बंसल पाथवेज द्वारा हबीबगंज रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास का काम किया जा रहा है।

स्टेशन की 70 फीसदी बिजली की आपूर्ति सोलर एनर्जी के ज़रिए किया जाएगी। स्टेशन पर बिजली की मांग 950KW है, जबकि 660KW बिजली की आपूर्ति सोलर प्लांट के जरिए की जाएगी। स्टेशन के पुनर्विकास के दौरान ज्यादा से ज्यादा इकोफ्रेंडली मैटेरियल का उपयोग किया गया है। इसके साथ ही दिव्यांगों के लिए अलग से पार्किंग की विवाद की गई है।स्टेशन पर दिव्यांगों को किसी प्रकार की दिक्कत न हो इसका पूरा ख्याल रखा गया है।