प्यारे मियां यौन शोषण मामले में मृतक बच्ची की मौत की CBI जांच हो: कमलनाथ

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि शिवराज सरकार के राज में प्रदेश अपराध में नंबर 1 होता जा रहा है, जब यह सरकार आई है अपराध बढ़ते जा रहे हैं

Updated: Jan 23, 2021, 12:07 PM IST

प्यारे मियां यौन शोषण मामले में मृतक बच्ची की मौत की CBI जांच हो: कमलनाथ
Photo Courtesy: The Print

भोपाल। पीसीसी चीफ कमलनाथ ने प्यारे मियां यौनशोषण मामले में मृतक नाबालिग बच्ची की मौत की CBI जांच करने की मांग की है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि शिवराज सरकार के राज में प्रदेश क्राइम में नंबर 1 होता जा रहा है। मध्य प्रदेश में जब से शिवराज सिंह की सरकार बनी है तब से प्रदेश में क्राइम का ग्राफ तेजी से बढ़ा है। भोपाल में नाबालिग बच्ची के परिजन पूर्व मुख्यमंत्री से मिले। 

और पढ़ें: मुख्यमंत्री ने दिया आदेश, प्यारे मियां यौन शोषण मामले की शिकार नाबालिग बेटी की मौत की जांच SIT करेगी

शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्यारे मियां यौन शोषण मामले की शिकार नाबालिग लड़की की मौत के मामले की SIT जांच की घोषणा की थी। इस मामले में पुलिस पर आरोप है कि उसने मृतका के परिवार वालों पर दबाव डालकर हड़बड़ी में बच्ची का अंतिम संस्कार करा दिया था। परिजनों की मर्जी के खिलाफ पुलिस शव को अस्पताल से सीधे श्मशान ले गई, उसे घर तक नहीं ले जाने दिया गया। कांग्रेस ने इसकी तुलना हाथरस कांड में पीड़िता का जबरन अंतिम संस्कार कराए जाने से की है।

दरअसल प्यारे मियां यौन शोषण के मामले में नाबालिग बच्ची की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। वहीं इस मामले में बालिका गृह की अधीक्षिका एंटोनिया कुजूर इक्का को हटा दिया गया है, उनकी जगह नई अधीक्षिका योगिता मुकाती की नियुक्ती हुई है।