खंडवा: बीजेपी पार्षद ने की थी बेरहमी से पिटाई, इलाज के दौरान बुजुर्ग महिला की मौत

इंदौर के अरविंदो अस्पताल में बुजुर्ग महिला ने तोड़ा दम तोड़ा, मारपीट के बाद खंडवा से हुई थी रेफर, पुलिस पर दबाव में आकर कार्रवाई नहीं करने का आरोप

Updated: Jan 23, 2023, 09:19 AM IST

खंडवा: बीजेपी पार्षद ने की थी बेरहमी से पिटाई, इलाज के दौरान बुजुर्ग महिला की मौत

खंडवा। मध्य प्रदेश के खंडवा में भाजपा पार्षद की पिटाई से घायल कांग्रेस नेता की पत्नी की इलाज के दौरान मौत हो गई। बेरहमी से पिटाई के कारण बुजुर्ग महिला की कूल्हे की हड्डी टूट गई थी, साथ ही शरीर के कई हिस्सों में गहरी चोटें आई थी। इंदौर के अरविंदो अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था। लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। शनिवार को उनकी मौत हो गई।

रविवार को अंतिम संस्कार से पहले परिजनों ने पुलिस थाने के सामने बुजुर्ग महिला का शव रखकर प्रदर्शन किया। मृृतिका के परिजन आरोपी भाजपा पार्षद पर हत्या का केस दर्ज कराने की मांग कर रहे थे। पुलिस अधिकारियों के लिखित आश्वासन के बाद शव उठाया और अंतिम संस्कार किया। परिजनों का आरोप है कि दबाव में आकर पुलिस आरोपी भाजपा पार्षद के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही है।

यह भी पढ़ें: MP कांग्रेस की नई टीम घोषित, 155 नेताओं को मिली जगह, 21 सदस्यीय पॉलिटिकल अफेयर्स कमेटी का भी गठन

जानकारी के मुताबिक मारपीट की घटना 3 जनवरी की रात की है। खंडवा के सिंधी कॉलोनी के वार्ड नंबर 37 के पार्षद पवन गोस्वामी ने 63 वर्षीय प्रकाश गोस्वामी और उनकी 57 वर्षीय पत्नी पूनम को इतना पीटा कि उनकी हड्डियां टूट गई थी। दंपती का कसूर सिर्फ इतना था कि जब पवन सड़क से गुजर रहा था तो पति की नजर उस पर पड़ गई। पवन इतने में बौखला गया और कहने लगा कि घूरकर क्यों देख रहे हो। उसके बाद उसने पहले बुजुर्ग को पीटा। जब पत्नी बीच-बचाव करने आई तो उन्हें भी बेरहमी से पीटा और बाल पकड़कर रोड पर घसीटा। बेटे-बहू आए तो उनके साथ भी मारपीट की थी।

इस घटना में बुजुर्ग दंपत्ति को काफी चोटें आईं। उन्हें खंडवा से इंदौर रेफर किया गया था। टीआइ ईश्वर सिंह चौहान का कहना है कि अरविंदो अस्पताल से महिला की मृत्यु होने की सूचना आई है। लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण स्पष्ट होने पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।