भोपाल में नहीं बढ़ेगा लॉकडाउन, क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में हुआ फैसला

शिवराज सिंह चौहान ने यह भी कहा है कि प्रदेशव्यापी लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा, मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां चालू रहेंगी

Updated: Apr 11, 2021, 08:04 PM IST

भोपाल में नहीं बढ़ेगा लॉकडाउन, क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में हुआ फैसला

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में लॉकडाउन की अवधि को नहीं बढ़ाया जाएगा। इसका मतलब यह होगा कि सोमवार से कोरोना के संकट के बीच एक बार फिर रोजमार्रा के काम शुरू हो जाएंगे। भोपाल में लॉकडाउन न बढ़ाए जाने का फैसला क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में लिया गया। खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राजधानी में लॉकडाउन न बढ़ाने के पक्ष में दिखे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि उनका यह मानना है कि लॉकडाउन समस्या का समाधान नहीं है। इसलिए प्रदेश में कहीं भी संपूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। कुछ जगहों पर सिर्फ कुछ गतिविधियों को रोका गया है ताकि कोरोना के फैलाव को रोका जा सके। सीएम ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि आने वाले दिनों में राज्य सरकार का प्रदेशव्यापी लॉकडाउन लागू करने का कोई विचार नहीं है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में आर्थिक गतिविधियों को सुचारू रूप से जारी रखा जाएगा ताकि लोगों की रोज़ी रोटी प्रभावित न हो सके। शिवराज ने यह भी कहा कि उन्हें और उनकी सरकार को पूरा भरोसा है कि हम सब जनता के साथ मिलकर कोरोना पर ज़रूर काबू पा लेंगे।

यह भी पढ़ें : मध्यप्रदेश के 12 शहरों में बढाई गई लॉकडाउन की अवधि, जबलपुर में 22 अप्रैल तक जबकि 19 अप्रैल तक उज्जैन इंदौर में होगा लॉकडाउन

दूसरी तरफ भोपाल के कोलार में 19 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाया गया है। इसके साथ ही प्रदेश के 12 शहरों में भी लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाया गया है। बड़वानी, राजगढ़, बालाघाट, विदिशा, जबलपुर, नरसिंहपुर, सिवनी, उज्जैन, इंदौर, महू और शाजापुर में लॉकडाउन को 19 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया गया है। वहीं जबलपुर में लॉकडाउन को 22 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया गया है।