MP में अग्निपथ स्कीम का विरोध, इंदौर में अभ्यर्थियों ने ट्रेन में लगाई आग, पुलिस ने किया लाठी चार्ज

अग्निपथ पर बढ़ते बवाल को लेकर मध्य प्रदेश में अलर्ट जारी, ग्वालियर और मुरैना में कोचिंग बंद, इंदौर में उग्र विरोध प्रदर्शन, ग्वालियर में कई दर्जन युवक गिरफ्तार

Updated: Jun 17, 2022, 05:18 PM IST

MP में अग्निपथ स्कीम का विरोध, इंदौर में अभ्यर्थियों ने ट्रेन में लगाई आग, पुलिस ने किया लाठी चार्ज

इंदौर। बिहार से शुरू हुई अग्निपथ योजना के खिलाफ विद्रोह की चिंगारी मध्य प्रदेश समेत 11 राज्यों में फैल चुकी है। मध्य प्रदेश में तमाम दबाव के बावजूद छात्र सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। मध्य प्रदेश के इंदौर में सैकड़ों युवाओं ने मुंबई-आगरा हाईवे पर जाम लगा दिया। हंगामा बढ़ता देख पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। 

इससे पहले शुक्रवार सुबह 7 बजे सेना भर्ती में पहुंचे युवाओं ने रेलवे स्टेशन पर हंगामा और पथराव कर दिया। पथराव में बाणगंगा थाने के एक एसआई स्वराज डाबी के कान में चोट आई है। जवाब में आरपीएफ जवानों को भी पथराव करना पड़ा। पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। सैंकड़ों की संख्या में छात्र लक्ष्मी बाई नगर स्टेशन पहुंचे थे। उपद्रवियों ने एक ट्रेन में आग लगा दी, हालांकि उसे फौरन बुझा दिया गया।

छात्रों ने पुणे से इंदौर आने वाली ट्रेन भी रोक दी। लक्ष्मीबाई नगर रेलवे स्टेशन पर युवकों ने इंदौर ट्रेन को करीब सवा घंटा रोका। बाणगंगा टीआई ने बताया कि 20-22 उपद्रवियों को हिरासत में लिया गया है। लोकमान्य तिलक पाटलिपुत्र एक्सप्रेस को इटारसी में और महानगरी एक्सप्रेस को हरदा में रोककर रखा गया है। रतलाम-महू और महू-इंदौर मेमू ट्रेन को रद्द किया गया है।

इंदौर के पास महू में भी छात्र विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। गुरुवार को कमिश्नर ने कोचिंग संचालकों से बात कर सेना भर्ती के लिए जाने वाले छात्रों को महू भेजने पर रोक लगा दी थी। अधिकारियों के मुताबिक जो छात्र रेलवे स्टेशन पर पहुंचे थे। वह दूसरे जिले ओर शहरों के है। अग्निपथ योजना को लेकर करीब 200 युवा आज अंबाह के पोरसा चौराहे पर विरोध प्रदर्शन करने उतरे। गुना में 'अग्निपथ' के खिलाफ प्रदर्शन करने जा रहे छात्रों को प्रशासन ने धारा 144 का हवाला देकर खदेड़ा। शुक्रवार दोपहर शहर में कुछ छात्र प्रदर्शन करने जा रहे थे। 

यह भी पढ़ें: अग्निपथ की आग में जल रहा बिहार, 19 जिलों में हालात बेकाबू, भीड़ ने 6 ट्रेनें फूंक दी, दक्षिण भारत में भी विरोध

अग्निपथ योजना के विरोध में ग्वालियर में गुरुवार को हुए विरोध प्रदर्शन के मामले में 4 एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस ने यहां कुछ कोचिंग संचालकों को भी गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा कि कोचिंग के वाट्स ग्रुप से उग्र प्रदर्शन के मैसेज वायरल किए गए। पुलिस ने इस मामले में 45 लोगों को पकड़ा है। इनमें 34 आरोपी हैं और 11 संदेह के आधार पर थाने में बैठाए हैं

प्रदेश के कई और शहरों में छिटपुट विरोध प्रदर्शन की सूचना के बाद पुलिस मुख्यालय ने राज्य के सभी जिलों को अलर्ट जारी किया है। पुलिस मुख्यालय की ओर से जारी अलर्ट में सभी जिलों के एसपी को विशेष निर्देश देते हुए सरकारी दफ्तरों के साथ रेलवे स्टेशन और सार्वजनिक स्थानों पर विशेष निगरानी रखने के निर्देश दिए गए है। इसके साथ पुलिस मुखायलय ने सोशल मीडिया पर कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दिए गए है।