गुंडों को जनता सबक सिखाएगी, चुनाव बाद भागते फिरेंगे संजय पाठक, BJP MLA पर कांग्रेस का पलटवार

कटनी महापौर चुनाव को लेकर आरोप प्रत्यारोपों का दौर जारी, बीजेपी विधायक संजय पाठक ने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी के पति जमीन कब्जा कराते हैं, कांग्रेस का पलटवार- ट्विंस किचन पर कब्जा किसने किया

Updated: Jul 11, 2022, 03:43 PM IST

गुंडों को जनता सबक सिखाएगी, चुनाव बाद भागते फिरेंगे संजय पाठक, BJP MLA पर कांग्रेस का पलटवार

कटनी। मध्य प्रदेश में कटनी का महापौर चुनाव बेहद रोचक मोड़ पर आ गया है। यहां अपनों ने ही सत्ताधारी दल बीजेपी की मुश्किलें बढ़ा दी है। वहीं कांग्रेस भी बेहद आक्रामक नजर आ रही है। कांग्रेस ने स्थानीय विधायक व पूर्व मंत्री संजय पाठक के बयान पर पलटवार करते हुए उनकी तुलना गुंडे मवालियोंं से की है। विपक्षी दल ने कहा है कि कटनी की जनता गुंडों को सबक सिखाएगी और चुनाव बाद बीजेपी के लोग भागते फिरेंगे।

दरअसल, कटनी से बीजेपी की महापौर उम्मीदवार ज्योति दीक्षित पूर्व मंत्री संजय पाठक की करीबी मानी जाती हैं। पाठक ने भी उनके लिए एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है। चुनाव प्रचार के दौरान संजय पाठक कांग्रेस उम्मीदवार श्रेया खंडेलवाल पर निजी टिप्पणी करने से भी बाज नहीं आते। हाल ही में उन्होंने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि श्रेया खंडेलवाल के पति जमीन कब्जा करते हैं। और उन्हें जिसने टिकट दिलाई है वे सारे गुंडे बदमाशों की जमानत लेते हैं। शहर में दुकानों पर कब्जा करना, मकानों पर कब्जा करना, कब्जा खाली कराना, यही इनका काम है।

यह भी पढ़ें: शिवराज सरकार ने खुले आहतों में लोगों को शराब पीने का लाइसेंस दिया, उमा भारती ने जेपी नड्डा को लिखा पत्र

संजय पाठक के बयान पर यूथ कांग्रेस के नेता दिव्यांशु मिश्रा ने करारा हमला बोला है। युवा नेता ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि, 'संजय पाठक बताएं की ट्विंस किचन पर कब्जा किसने किया? जहली में करोड़ों की जमीन पर किसने कब्जा किया? हवाला कांड से बचने के लिए गौरवा तिवारी का तबादला किसने कराया? दरअसल, संजय पाठक ने इसीलिए अपने उम्मीदवार को टिकट दिलाया है कि वे नगर निगम की जमीन पर कब्जा कर सकें। लेकिन जनता इस बार आपकी मंशा पूरी नहीं होने देगी।'

दिव्यांशु मिश्रा ने आगे कहा कि, 'संजय पाठक ने एक पत्रकार को उठवा लिया, उसके साथ मारपीट की, मां बहनों के साथ रेप की धमकी दी। क्या ये गुंडागर्दी नहीं है? कटनी की जनता इस बार गुंडों और मवालियों को वोट नहीं देगी। युवा नेत्री श्रेया खंडेलवाल सबकी पसंद हैं। चुनाव बाद ये बीजेपी के गुंडे और माफिया भागते फिरेंगे। युवा मोर्चा के लोग कहते हैं कि कोरोना काल में यूथ कांग्रेस ने कुछ नहीं किया। उनसे पूछिए की सीटी स्कैन मशीन उनके अब्बा ने लाए थे?'

बता दें कि कटनी से कांग्रेस ने यूथ कांग्रेस की कार्यकर्ता श्रेया खंडेलवाल को प्रत्याशी बनाया है। वहीं बीजेपी की ओर से ज्योति दीक्षित मैदान में हैं। उधर बीजेपी नेत्री और दो बार पार्षद रह चुकी प्रीति संजय सूरी ने निर्दलीय ताल ठोका है। सूरी की उम्मीदवारी से बीजेपी मुश्किलों में है। वहीं कांग्रेस अपनी जीत को लेकर आश्वस्त नजर आ रही है। इनके अलावा आम आदमी पार्टी से शशी प्रभा तिवारी, बहुजन समाजवादी पार्टी से अंजलि और समाजवादी पार्टी से अनीता चुनावी मैदान में हैं।