समाधि लेने के लिए 7 फीट गहरे गड्ढे में लेटे थे बाबा, ऐन मौके पर पहुंची पुलिस, अस्पताल में कराया भर्ती

सैंकड़ों समर्थकों की मौजूदगी में गाजे-बाजे के साथ भू समाधि ले रहे थे बाबा, किसी ने पुलिस को फोन कर बता दिया, गड्ढे में लेटे बाबा को अस्पताल ले गयी पुलिस

Updated: Oct 08, 2021, 09:44 AM IST

समाधि लेने के लिए 7 फीट गहरे गड्ढे में लेटे थे बाबा, ऐन मौके पर पहुंची पुलिस, अस्पताल में कराया भर्ती

मुरैना। अयोध्या के संत परमहंस की समाधि लेने की खबर बीते दिनों खूब चर्चा बटोर रही थी। हालांकि, पुलिस की दखल के बाद वे समाधि नहीं ले पाए थे। ऐसा ही एक मामला अब मध्य प्रदेश के मुरैना से सामने आया है। यहां एक बाबा समाधि लेने के लिए 7 फीट गड्ढे में लेटे हुए थे। लेकिन ऐन मौके पर पुलिस आ गई। फिर क्या था अब बाबा अस्पताल के बिस्तर पर लेटे हुए हैं।

मामला मुरैना जिले के तुस्सीपुरा के कैथोदा गांव का है। यहां राम सिंह उर्फ पप्पड़ बाबा का दुर्गादास आश्रम है। आसपास के कई गांव के लोग पप्पड़ बाबा के शिष्य हैं। बाबा ने हाल ही में गांव वालों के सामने समाधि लेने की इच्छा जताई थी। उन्होंने कहा था कि वे 100 साल के हो गए हैं, इसलिए समाधि लेना चाहते हैं। बाबा की जिद के आगे श्रद्धालुओं ने भी उन्हें नहीं रोका। उनके शिष्यों ने बाबा के समाधि की पूरी व्यवस्था भी कर दी। 

समाधि वाले दिन यानी गुरुवार को बाबा को दूध से स्नान कराया गया और सैंकड़ों की संख्या में मौजूद लोगों ने उनकी पूजा अर्चना की। शिष्यों ने समाधि के लिए आश्रम में ही 7 फीट का गड्ढा भी खोद रखा था। पूजा पाठ के बाद गाजे-बाजे के साथ बाबा को गड्ढे में लिटाया गया। लेकिन जैसे ही शिष्य गड्ढा भरना शुरू करते कि वहां पुलिस आ गई। पुलिस ने सभी को रोका और बाबा को जबरण गड्ढे से टांगकर बाहर निकाला। इस दौरान बाबा कहने लगे की मैं 100 साल का हो गया हूं, मुझे समाधि लेने दो। 

पुलिस यहां से उन्हें सीधे लेकर अस्पताल गयी और वहां उन्हें भर्ती करा दिया। मामले पर पप्पड़ बाबा का कहना है कि, 'हम समाधि लेना चाहते थे, लेकिन कुछ लोगों ने जो हमें पसंद नहीं करते हैं, उन्होंने मामला बिगाड़ दिया। पुलिस बुलाकर हमें अस्पताल भिजवा दिया। हम इस बात से दु:खी हैं।' बताया जा रहा है कि बाबा के दो बेटे और दो पोते भी हैं।