बापू के शहादत दिवस पर गोडसे समर्थकों के ख़िलाफ़ उपवास, कांग्रेस MLA आरिफ मसूद के नेतृत्व में आयोजन

मिंटो हॉल के सामने गांधी जी की प्रतिमा के सामने कांग्रेस विधायक के नेतृत्व में स्थानीय लोगों ने उपवास किया, भजन कीर्तन के साथ साथ लगाए गोडसे मुर्दाबाद के नारे

Updated: Jan 30, 2021, 04:42 PM IST

बापू के शहादत दिवस पर गोडसे समर्थकों के ख़िलाफ़ उपवास, कांग्रेस MLA आरिफ मसूद के नेतृत्व में आयोजन

भोपाल। महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर हत्यारे गोडसे की विचारधारा का समर्थन करने वाले लोगों को कड़ा संदेश देने के लिए आज भोपाल में कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के नेतृत्व में उपवास रखा गया। यह उपवास राजधानी के मिंटो हॉल के पास राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने किया गया। उपवास कार्यक्रम में कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद के साथ साथ स्थानीय लोग भी मौजूद थे। आरिफ मसूद ने इस मौके पर कहा कि यह देश गोडसे की नहीं, बापू की विचारधारा से ही चलेगा। 

उपवास के दौरान भजन गांधी जी के प्रिय भजन रघुपति राघव राजा राम और वैष्णव जन तो तेने कहिए का गायन भी हुआ। कार्यक्रम के दौरान लोगों ने बापू के हत्यारे गोडसे का महिमामंडन करने वालों के खिलाफ नारेबाज़ी की और 'बापू हम शर्मिंदा हैं, तेरे कातिल ज़िंदा हैं' जैसे नारे भी लगाए। उपवास पर बैठे लोगों के हाथों में प्ले कार्ड्स भी मौजूद थे। 

यह भी पढ़ें : क्या गांधी के देश में अब बंटेगा गोडसे का ज्ञान, मध्य प्रदेश में बापू के हत्यारे का मंदिर बनाने का भी हुआ एलान

यह देश बापू की विचारधारा से चलेगा : आरिफ मसूद 

कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने कहा कि हम जब स्कूल में थे तो आज के दिन एक सायरन बजा करता था, जिससे पता चलता था कि आज ही के दिन हमारे राष्ट्रपिता शहीद हुए थे। हत्यारे नाथूराम गोडसे ने उन्हें गोली मारी थी। लेकिन धीरे धीरे यह परंपराएं समाप्त हो गईं। धीरे धीरे बापू के हत्यारों की पूजा करने, बापू के हत्यारे की घृणित सोच को आगे बढ़ाने वाली संस्थाएं अब आगे आ गई हैं। इसीलिए हम उपवास रखकर यह बताना चाहते हैं कि आज भी बापू को चाहने वाले ज़िंदा हैं और देश बापू की विचारधारा से ही देश चलेगा। 

यह भी पढ़ें : प्रज्ञा ठाकुर ने किया गोडसे की ज्ञानशाला का समर्थन, कहा, ये राष्ट्रद्रोह से अच्छा

हाल ही में मध्य प्रदेश के ग्वालियर में महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे के नाम से कथित ज्ञानशाला खोले जाने की खबरें आई थीं। इस कथित ज्ञानशाला का मकसद गोडसे को महिमामंडित करना है। इतना ही नहीं हिन्दू महासभा ने ग्वालियर में उस जगह गोडसे का मंदिर बनाने का ऐलान भी किया है, जहां गोडसे बापू की हत्या करने से पहले रुका था। भोपाल की बीजेपी सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर भी खुलेआम नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताती रही हैं। ग्वालियर में गोडसे ज्ञानशाला खोले जाने की खबर पर भी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था कि ऐसा करना राष्ट्रद्रोह करने से अच्छा है।