Jyotiraditya Scindia: मुरैना रैली में ज्योतिरादित्य सिंधिया को दिखाए काले झंडे

MP By Election 2020: प्रदर्शन को रोकने के लिए पुलिस ने कांग्रेस नेताओं को किया गिरफ़्तार, घरों की निगरानी की गई मगर फिर भी हुआ विरोध

Updated: Sep 13, 2020 05:00 PM IST

Jyotiraditya Scindia: मुरैना रैली में ज्योतिरादित्य सिंधिया को दिखाए काले झंडे
Photo Courtesy: naidunia

मुरैना/भोपाल। मध्यप्रदेश में उपचुनाव का बिगुल फूंका जा चुका है। प्रदेश में 27 सीटों पर उपचुनाव होने जा रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही चुनावी मैदान में कूद गई है। पूरे अभियान के दौरान ही एक बात शुरु से ही देखने में मिल रही है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके समर्थक मंत्रियों का हर जगह विरोध हो रहा है।

ऐसा ही हाल शनिवार को हुआ जब ज्योतिरादित्य सिंधिया मुरैना की रैली को संबोधित कर रहे थे। उनका विरोध हुआ और काले झंडे दिखाए गए। 

दरअसल शनिवार को एक तरफ जहां ज्योतिरादित्य सिंधिया मुरैना की रैली को संबोधित कर रहे थे तो वहीं दूसरी तरफ उनके भाषण को सुनने पहुंची जनता काले झण्डे दिखा रही थी। सिंधिया के भाषण के बीच में ही कुछ लोगों ने 'गद्दार सिंधिया वापस जाओ ' के नारे लगाना शुरू कर दिए। इस घटनाक्रम का वीडियो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। लोगों का कहना है कि उपचुनाव से पहले ही नतीजे सबके सामने हैं।

हालांकि सिंधिया और सीएम के विरोध की आशंका के चलते पुलिस ने कांग्रेस शहर और कांग्रेस के दूसरे नेताओं के घर पर पहले ही निगरानी  शुरू कर दी थी। काले झंडे दिखाने के लिए मेला मैदान पर खड़े प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारी दिनेश गुर्जर को 50 कांग्रेसियों सहित गिरफ्तार किया गया था। न्यू हाउसिंग बोर्ड गेट पर खड़े सुमावली विधानसभा के कांग्रेस नेता राम लखन दंडोतिया, अशोक सिकरवार सहित करीब 25 कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया था। फिर भी  कांग्रेस नेता रैली के अंदर पहुंच गए और काले झंडे दिखा दिए।