प्रश्न पूछो तो देशद्रोह, सच बताओ तो FIR, देश के मौजूदा हालातों को लेकर कमलनाथ ने जताई चिंता

मैहर में पत्रकार वार्ता के दौरान कमलनाथ बोले- आज मिडिल क्लास को नीचे घसीटा जा रहा है, लोअर क्लास को गरीब और गरीब को भिखारी बनाया जा रहा है, अब भारत महान नहीं बदनाम हो गया है

Updated: May 28, 2021, 04:18 PM IST

प्रश्न पूछो तो देशद्रोह, सच बताओ तो FIR, देश के मौजूदा हालातों को लेकर कमलनाथ ने जताई चिंता
Photo Courtesy: TheWeek

मैहर। मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम व पीसीसी चीफ कमलनाथ ने केंद्र और राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस नेता ने देश की मौजूदा हालातों पर चिंता जताते हुए कहा है कि आज मिडिल क्लास को नीचे घसीटा जा रहा है, लोअर क्लास को गरीब और गरीब वर्ग को भिखारी बनाया जा रहा है। पीसीसी चीफ ने कहा कि स्थिति यह है कि देश में प्रश्न पूछने पर देशद्रोही करार दिया जाता है, सच बताने पर एफआईआर कर दी जाती है।

कमलनाथ आज मैहर प्रवास पर थे। यहां उन्होंने कोरोना वायरस के कारण मौत का शिकार हुए समाजसेवियों के परिजनों से मिलकर उन्हें सांत्वना दी। इसके बाद कमलनाथ ने सर्किट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस कर केंद्र की मोदी और राज्य की शिवराज सरकार को निशाने पर लिया। कमलनाथ ने कहा, 'आने वाले 30 मई मोदी सरकार के सात साल पूरे हो रहे हैं। प्रधानमंत्री को जवाब देना चाहिए, उन्हें बताना चाहिए कि क्या देश नारो पर ही चलेगा? रोजगार के वादे का क्या हुआ? महंगाई कहां पहुंची?'

यह भी पढ़ें: सागर में केवल पांच दिन ही रिपोर्टिंग कर पाएंगे पत्रकार, शनिवार और रविवार को नहीं जारी होंगे पास

पीसीसी चीफ ने बीजेपी नेताओं पर खुला आरोप लगाते हुए कहा कि, 'मध्यप्रदेश में अब एक नया माफिया खड़ा हुआ है। यह कोविड-19 माफिया है। ये माफिया बीजेपी से जुड़े हुए हैं। बीजेपी नेताओं द्वारा खुलेआम हॉस्पिटल में बेड्स, वेंटीलेटर्स और इंजेक्शन बेचे जा रहे हैं। प्रदेश को जिस गड्ढे में धकेला जा रहा है उससे निकलना बहुत बड़ी चुनौती होगी।' कांग्रेस नेता ने आगे कहा, 'प्रदेश की 70 फीसदी अर्थव्यवस्था कृषि आधारित है। लेकिन स्थिति ये है कि मिडिल क्लास को नीचे घसीटा जा रहा है, लोअर क्लास को गरीब और गरीब वर्ग को भिखारी बनाया जा रहा है।'

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान एक पत्रकार द्वारा विश्व में भारत की छवि को लेकर सवाल पूछने पर कमलनाथ ने चिंता जताते हुए कहा, 'आज भारत महान नहीं, बल्कि बदनाम हो गया है। सभी देशों ने भारत पर बैन लगा दिया है। भारतीय कहीं जा भी नहीं सकते। मेरे किसी जानने वाले ने मुझे न्यूयॉर्क से कॉल किया था, बताया कि भारतीय चालकों की टैक्सी में कोई बैठने तक को तैयार नहीं है।'

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी: कोरोना को अब तक नहीं समझ पाए हैं प्रधानमंत्री मोदी, वैक्सीनेशन ही है कोरोना का स्थायी समाधान

कोरोना से हो रही मौतों को लेकर कमलनाथ ने साफ कहा है कि इसके लिए राज्य और केंद्र सरकार जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा, 'सेकंड वेव की जानकारी महीनों से थी, लेकिन तैयारियां करने के बजाए सरकार चुनावों में लगी रही। इनसे कोई सवाल पूछो तो देशद्रोही कहने लगते हैं, सच्चाई दिखा दो तो एफआईआर कर देते हैं। सरकार आकंड़े क्यों नहीं सामने रखती है।' कांग्रेस नेता ने यहां एक बार फिर से दोहराया की अकेले मध्यप्रदेश में 1 लाख से ज्यादा लोगों की कोरोना वायरस की वजह से मौतें हुई है।