राजगढ़ प्रशासन ने नष्ट किया 37 लाख का महुआ, दबिश देने पर अवैध कारोबारियों ने किया पथराव

राजगढ़, पचोर और सुठालिया में अवैध कारोबार कर रहे कुल 16 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया

Updated: Jan 17, 2021, 11:16 AM IST

राजगढ़ प्रशासन ने नष्ट किया 37 लाख का महुआ, दबिश देने पर अवैध कारोबारियों ने किया पथराव
Photo Courtesy: Jagran

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुरैना में जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद राजगढ़ प्रशासन अब हरकत में आ गया है। ज़िले के पचोर, राजगढ़ और सुठालिया थानाक्षेत्र में अवैध कारोबारियों के अड्डों पर पुलिस ने छापेमारी की। इस दौरान पुलिस ने लगभग 37 लाख रुपये का महुआ नष्ट कर दिया। इसके साथ ही पुलिस ने करीब 700 लीटर अवैध शराब भी बरामद की है।

राजगढ़ पुलिस ने जब शनिवार को इन इलाकों में छापेमारी की तो मौके पर मौजूद लोगों ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया। अवैध कारोबार करने वाले लोगों ने पुलिस की टीम पर पथराव भी किया। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी आंसू गैस के गोले दागे। 

पुलिस ने इस पूरे कार्रवाई में कुल 16 आरोपियों को अपनी हिरासत में लिया है। इसके अलावा 20 लोगों के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा डालने का मामला भी दर्ज किया गया है। दरअसल यह सारी कार्रवाई मुरैना में जहरीली शराब के कारण हुई मौतों के बाद की गई है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो राजगढ़ प्रशासन ने जिन ठिकानों पर छापेमारी की, उनमें अवैध कारोबार किए जाने की खबर बहुत पहले से ही प्रशासन को थी। लेकिन जब से मुरैना कांड सामने आया है, राजगढ़ प्रशासन भी हरकत में आ गया है।