बालघाट में लाल आतंक का कहर, पुलिस मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या, छोड़ गए पर्चे

मध्य प्रदेश के बालाघाट में एक बार फिर नक़्सली गतिविधियां बढ़ने लगी है, यहां पुलिस मुखबीरी के शक में नक्सलियों ने एक ग्रामीण को मौत के घाट उतार दिया

Updated: Aug 06, 2022, 06:34 PM IST

बालघाट में लाल आतंक का कहर, पुलिस मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने की ग्रामीण की हत्या, छोड़ गए पर्चे

बालाघाट। मध्य प्रदेश के बालाघाट में एक बार फिर लाल आतंक का कहर देखने को मिल रहा है। जिले में नक्सलियों ने अपनी गतिविधियां बढ़ा दी है। यहां पुलिस मुखबीरी के शक में एक युवक को अज्ञात नक्सलियों ने मौत के घाट उतार दिया। पिछले चार महीने में यहां इस तरह की दूसरी वारदात हुई है।

बताया जा रहा है कि देर रात तकरीबन दर्जन भर बंदूकधारी नक्सलियों ने इस वारदात को अंजाम दिया। मामला बालाघाट जिले के रूपझर थाना अंतर्गत पाथरी चौकी के जगला ग्राम का है। यहां नक्सलियों ने ग्रामीण लालू धुर्वे को मुखबिरी के शक में मार डाला। वारदात वाले स्थल पर नक्सलियों ने एक पर्चा भी छोड़ा है। 

पर्चों में मलाजखंड एरिया कमेटी ने पुलिस को ग्रामीणों को पैसों का लालच देकर मुखबिरी बंद करने की चेतावनी दी। साथ ही नक्सलियों ने पुलिस की मदद करने वाले या पुलिस नेटवर्क बनने वालों को मौत की सजा देने की बात लिखी है। पुलिस ने इन पर्चों को जब्त कर लिया है। साथ ही पर्चों की पुलिस जांच भी कर रही है। मुखबिरी के शक में लालू की हत्या हो जाने से ग्रामीण दहशत में आ गए हैं।