शिवपुरी जिला अस्पताल में सिलेंडर फटने की अफवाह, भगदड़ मचने से मासूम की मौत

ऑक्सीजन सिलेंडर ब्लास्ट की अफवाह के बाद बाद मची, मासूम का ऑक्सीजन पाइप निकाल भागी मां, ऑक्सीजन के बगैर मां की गोद में टूटी मासूम की सांसें

Updated: Nov 21, 2022, 03:13 PM IST

शिवपुरी जिला अस्पताल में सिलेंडर फटने की अफवाह, भगदड़ मचने से मासूम की मौत

शिवपुरी। मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिला अस्पताल में सिलेंडर ब्लास्ट की अफवाह ने एक मासूम की जान ले ली। बताया जा रहा है कि ऑक्सीजन सिलेंडर ने ब्लास्ट की अफवाह के बाद सभी लोग भागने लगे थे। इस दौरान अस्पताल में भर्ती एक महीने के नवजात बच्चे की मां भी अपने बेटे को लेकर बाहर भाग गई। ऑक्सीजन की कमी के कारण नवजात ने मां की गोद में दम तोड़ दिया।

मृतक की मां ने सुमन आदिवासी ने बताया कि, 'मेरे एक महीने के बेटे छोटू काे उल्टी-दस्त की शिकायत थी। वह ठीक से सांस भी नहीं ले पा रहा था। पांच दिन पहले उसे दिखाने जिला अस्पताल आए थे। यहां डॉक्टर ने भर्ती करने को कहा। छोटू को PICU में रखा गया। बच्चे की हालत बिगड़ती देख रविवार को डॉक्टरों ने ग्वालियर रेफर कर दिया। बच्चे को ग्वालियर लेकर जाने के लिए 108 एम्बुलेंस बाहर खड़ी थी।'

यह भी पढ़ें: इंदौर में दूषित पानी पीने से पूरा गांव बीमार, करीब 35 लोगों में डेंगू व मलेरिया के लक्षण

महिला ने आगे कहा कि, 'एम्बुलेंस का ड्राइवर और एक महिला गार्ड आए और उन्होंने ऑक्सीजन सिलेंडर को खोलने की कोशिश की। इस दौरान अचानक से धमाका हुआ और भगदड़ मच गई। स्टाफ और वहां भर्ती बच्चों को लेकर परिवारवाले वार्ड से बाहर भागने लगे। उन्हें देखकर मैं भी छोटू को गोद में लेकर बाहर भागी। करीब आधे घंटे तक बच्चे को लेकर बाहर खड़ी रही। हालात सामान्य हुए तो उसे लेकर भीतर आई। वह मेरी गोद में निढाल पड़ा था। डॉक्टर को दिखाया तो उन्होंने कहा कि बच्चे की मौत हो गई।'

कलेक्टर शिवपुरी अक्षय कुमार सिंह का कहना है कि अफवाह फैलने की वजह से यह घटना हुई है। इसलिए अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई। अस्पताल की सीसीटीवी फुटेज मंगवाई है, जिससे सच सामने आ जाएगा। जिस बच्चे की मौत हुई है, उसकी हालत पहले से सीरियस थी। डॉक्टर ने उसे बचाने का पूरा प्रयास किया था।