MP में आज से पेसा एक्ट लागू, आदिवासियों पर लगे छोटे मोटे केस होंगे वापस: शिवराज चौहान

टंट्या भील की जयंती को बलिदान दिवस के रूप में मना रही शिवराज सरकार ने इंदौर में आयोजित क्रांति सूर्य गौरव यात्रा के समापन पर सीएम ने प्रत्येक वर्ष टांट्या मामा की जयंती पर मेला लगाने और पातालपानी का विकास करने का दावा किया है

Updated: Dec 04, 2021, 04:12 PM IST

MP में आज से पेसा एक्ट लागू, आदिवासियों पर लगे छोटे मोटे केस होंगे वापस: शिवराज चौहान
Photo Courtesy: Twitter

भोपाल। मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार आदिवासियों को साधने के लिए तमाम हथकंडे अपना रही है। राज्य सरकार ने शंकरशाह बलिदान दिवस और बिरसा मुंडा जयंती के बाद आज व्यापक स्तर पर टंट्या भील बलिदान दिवस मनाया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने पेसा एक्ट लागू करने से लेकर आदिवासियों पर लगे छोटे केस वापस लेने जैसे लुभावने वादे किए।

टंट्या मामा स्मृति दिवस का तय कार्यक्रम के अनुसार सीएम शिवराज दोपहर करीब 12 बजे पातालपानी पहुंचे। यहां उन्होंने टंट्या मामा की कांस्य प्रतिमा का अनावरण किया। इस दौरान राज्यपाल मंगू भाई पटेल भी मौजूद रहे। मुख्यमंत्री ने ऐलान किया कि टंट्या मामा की स्मृति में यहां अब से प्रत्येक वर्ष मेला लगेगा और पातालपानी क्षेत्र का विकास किया जाएगा। साथ ही जननायक टंट्या मामा की स्मृति में 4 करोड़ 55 लाख की लागत से पातालपानी में नवतीर्थ स्थल बनाया जायेगा। उन्होंने इसे समस्त जनजातीय भाई-बहनों का सम्मान बताया।

चूंकि, टंट्या स्मृति दिवस का मुख्य कार्यक्रम इंदौर में आयोजित किया गया था ऐसे में सीएम शिवराज, राज्यपाल मंगू भाई पटेल समेत अन्य सभी गणमान्य अथिति पातालपानी से इंदौर आ गए। यहां क्षेत्र से हजारों की संख्या में आदिवासियों को बुलाया गया था। सीएम शिवराज ने इस दौरान आदिवासी गीत पर जमकर ठुमके लगाए। उन्होंने यहां प्रशासनिक संकुल का अनावरण करने के साथ कई लुभावने वादे किए।

यह भी पढ़ें: इंस्टाग्राम पर सिंधिया हुए श्रेया अरोरा, हैकरों ने बदला नाम, कांग्रेस बोली- लोकप्रियता बढ़ाने के लिए श्रीमंत श्रेया हो गए

मुख्यमंत्री ने समारोह के समापन के दौरान कहा कि, 'मेरे जनजातीय भाई-बहनों आपकी जिंदगी में सुख और आनंद हो, हम इसके लिए निरंतर कार्य कर रहे हैं। आपके कल्याण के लिए आज से प्रदेश में पेसा ऐक्ट लागू किया जा रहा है। मुझे बताते हुए अति गौरव और प्रसन्नता की अनुभूति हो रही है कि आदरणीय प्रधानमंत्री मोदी जी के आशीर्वाद से प्रदेश में पेसा एक्ट लागू कर दिया गया है और ग्राम सभाओं को अधिक सशक्त किया गया है।'

सीएम शिवराज ने इस दौरान एक और ऐलान करते हुए कहा कि, 'मेरे जनजातीय भाई-बहनों को वन अधिकार के पट्टे देने का क्रम जारी रहेगा। जिनके दिसंबर 06 से पूर्व के पट्टे हैं, उन्हें जमीन दी जाएगी। साथ ही जिन लोगों पर अपराध के छोटे-मोटे मामूली मामले चल रहे हैं उन सभी को वापस लिया जाएगा। प्रदेश में जिन जनजातीय भाई-बहनों के पास जमीन नहीं है, उन्हें जमीन का पट्टा देकर जमीन का मालिक बनाया जाएगा। आवास की व्यवस्था की जाएगी। मध्य प्रदेश की धरती पर कोई बिना जमीन या मकान के नहीं रहेगा। सभी को मकान मालिक बनाएंगे।'

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि, 'अब राशन के लिए पूरा दिन व्यर्थ नहीं जाएगा, बल्कि "राशन आपके ग्राम योजना" के तहत राशन गांव में ही मिल जाएगा। राशन पहुंचाने के लिए सरकारी वाहनों के बजाय जनजातीय युवाओं को वाहन बैंक से सरकार ने फाइनेंस करवाए हैं। मेरे युवा बेटे-बेटियों, एक लाख बैकलॉग के पदों पर भर्ती प्रारंभ कर दी गई है। मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना में 50 लाख रुपये तक उद्योग लगाने के लिए लोन दिया जायेगा। बैंकों को गारंटी भी सरकार देगी और ब्याज पर 3% सब्सिडी भी।'