एमपी के इन जिलों में लगा दो दिन का लॉक डाउन, प्रतिष्ठान रहेंगे बंद, ज़रूरी कार्यो की रहेगी इजाज़त

मध्यप्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामले सरकार की नींद उड़ा दी है। शाजापुर ज़िले में दो दिन का लॉक डाउन लगा दिया गया है।

Updated: Apr 07, 2021, 10:45 AM IST

एमपी के इन जिलों में लगा दो दिन का लॉक डाउन, प्रतिष्ठान रहेंगे बंद, ज़रूरी कार्यो की रहेगी इजाज़त
Photo courtesy: patrika

भोपाल। मध्यप्रदेश में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इंदौर, भोपाल, जबलपुर बड़े शहरों में रविवार को 24 घंटे का लाँकडाउन के आदेश दिए हैं।
वहीं कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए शाजापुर ज़िले में 2 दिन का लॉकडाउन लगा दिया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह लॉकडाउन 7 अप्रैल शाम 8 बजे से 10 अप्रैल सुबह 6 बजे तक शाजापुर में पाबंदी रहेगी।इसके अलावा मुरैना ज़िले में भी कोरोना का संक्रमण तेज़ी से बढ़ रहा है।जिसको लेकर प्रशासन ने लॉक डाउन लगाने के संकेत दिए हैं। वहीं मध्यप्रदेश के भोपाल, ग्वालियर, इंदौर, नरसिंहपुर, रतलाम, बैतूल में साप्ताहिक लॉक डाउन लगाया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि शाजापुर ज़िले में रेस्टोरेंट, भोजनालय,प्रतिष्ठान बंद रहेगा, वहीं मेडिकल स्टोर, अस्पताल आपातकाल की स्थिति में खुले रहेंगे।इसके अलावा दूध की दुकानें सुबह 6 से 9 बजे तक ही खुल सकेंगी। वहीं 45 साल की उम्र के लोगों को आधार कार्ड दिखा कर टीकाकरण के लिए अस्पताल जाने में कोई पाबंदी नही होगी।

इसके अलावा सीएम शिवराज सिंह चौहान में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लॉक डाउन लगाने का फ़ैसला ज़िला परिषद मैनेजमेंट कमेटी पर छोड़ दिया है। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए ज़िला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी लॉक डाउन लगाने पर फैसला लेने के लिए स्वतंत्र रहेगी।


गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में कोरोना की रफ़्तार तेज़ी से बढ़ रही है।पॉजिटिव दर 20 प्रतिशत पहुँच गया है।इसके साथ ही इंदौर, बड़वानी, खरगोन में 15 प्रतिशत  पॉजिटिव रेट है। ग्वालियर उज्जैन में कोरोना पॉजिटिव रेट 9 प्रतिशत पहुँच गया है।  वहीं प्रदेशभर में 60 फ़ीसदी लोग आइसोलेशन सेंटर कि व्यवस्था की गई हैं।


उल्लेखनीय है कि प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर ने प्रशासन की चिंताएं बढ़ा दी हैं। कोरोना की रफ्तार तेजी से बढ़ रही है। रोजाना 3 हजार के करीब मामले सामने आ रहे हैं। मंगलवार को 3722 नए संक्रमित मरीज सामने आए हैं। वहीं मंगलवार को कुल 18 लोगों ने कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया है। तेजी से बढ़ रहे कोरोना मरीजों का प्रदेश में पॉजिटिविटि रेट 11.11 प्रतिशत पहुंच गया है। जनवरी में यह रेट गिरकर 1 प्रतिशत हो गया था। अब कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण ने शिवराज सरकार की भी नींद उड़ा रखी है। प्रदेश के चार महानगरों में हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं। मंगलवार को सबसे ज्यादा केस इंदौर से सामने आए हैं। इंदौर में 805, भोपाल में 582, जबलपुर में 257 और ग्वालियर में 160 नए मरीज सामने आए हैं। साथ ही प्रदेश के 37 जिले ऐसे हैं जहां रोजाना 20 से ज्यादा लोग संक्रमित निकल रहे हैं।