हिमाचल प्रदेश के इस गांव में कोरोना से बचा सिर्फ़ एक शख़्स

Corona Community Transmission: पूरे गांव में जिस एक व्यक्ति की टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई है वह कोरोना से बचाव के तमाम दिशानिर्देशों का कड़ाई से पालन करता रहा है

Updated: Nov 21, 2020, 03:47 PM IST

हिमाचल प्रदेश के इस गांव में कोरोना से बचा सिर्फ़ एक शख़्स
Photo Courtesy: Himachal Tourism

लाहौल स्पीति। हिमाचल प्रदेश के लाहौल स्पीति स्थित थोरांग गांव में कोरोना वायरस के कम्युनिटी ट्रांसमिशन का मामला सामने आया है। इस गांव के सभी लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। हैरान करने वाली बात यह है कि फिलहाल गांव का केवल एक शख्स कोरोना संक्रमण से बचा हुआ है। जबकि उसके चारों तरफ कोरोना प्रभावित लोग थे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक बीते दिन इस गांव में एक धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिस वजह से गांव के सभी लोगों में यह संक्रमण फैल गया। अधिकारियों के मुताबिक मनाली-लेह हाईवे पर स्थित लाहौल-स्पीति जिले के इस गांव की कुल आबादी 42 है। इनमें से 41 लोग टेस्ट में कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इसके बाद लाहौल-स्पीति में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 900 से ज़्यादा हो गई है। 31 हजार 500 की आबादी वाले इस जिले में अभी तक 2.83 प्रतिशत लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा चुके हैं।

और पढ़ें: दिल्ली में कोरोना के मामले 5 लाख के पार, आज होगी सर्वदलीय बैठक

पूरे गांव के कोरोना प्रभावित होने के बावजूद 52 साल के जिस भूषण ठाकुर को कोरोना नहीं हुआ उन्होंने मीडिया को बताया, ‘मैं एक अलग कमरे में रह रहा हूं और बीते चार दिन से खुद ही अपना खाना पका रहा हूं। जब तक टेस्ट के नतीजे नहीं आए थे, तब तक मैं अपने परिवार के साथ था। मैंने हमेशा सभी नियमों का पालन किया, जिसमें हाथ सैनेटाइज करने से लेकर फेस मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालना करना शामिल है। लोगों को इस महामारी को हल्के में नहीं लेना चाहिए। सर्दी आने पर लोगों को और सावधानी बरतने की जरूरत है।'

लाहौल में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन को पर्यटकों को रोहतांग सुरंग के करीब तेलिंग नाले तक ही रोक दिया है। पर्यटकों को गुरुवार को लाहौल गांव नहीं जाने दिया गया। इसके साथ ही सुरंग के आगे के कई गांवों को कंटेनमेंट जोन में बदल दिया गया है।

और पढ़ें: फायज़र का 95 फीसदी कारगर कोरोना वैक्सीन बनाने का एलान, ट्रायल भी पूरा

बता दें कि हिमाचल प्रदेश में अब तक कोरोना के 32 हजार से ज्यादा सामने आ चुके हैं, जिनमें फिलहाल करीब सात हजार सक्रिय केस हैं। इस महामारी की वजह से प्रदेश में 491 लोगों की जान जा चुकी है। मंडी और शिमला कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित जिले हैं जहां 5 हजार से ज्यादा केस हैं। लाहौल स्पीति अब तक सबसे सुरक्षित माना जा रहा था लेकिन शुक्रवार को 49 नए केस सामने आने के बाद यहां संक्रमितों का आंकड़ा 939 तक जा पहुंचा है।