BJP MLA on Rape: बीजेपी विधायक का शर्मनाक बयान, बेटियों के संस्कारों पर डाली रेप रोकने की जिम्मेदारी

बलिया के बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा, शासन और तलवार से नहीं रुक सकता रेप, बेटियों को अच्छे संस्कार दें मां-बाप, तभी रुकेंगी बलात्कार की घटनाएं

Updated: Oct-04, 2020, 10:44 PM IST

BJP MLA on Rape: बीजेपी विधायक का शर्मनाक बयान, बेटियों के संस्कारों पर डाली रेप रोकने की जिम्मेदारी
Photo Courtesy: Outlook Hindi

लखनऊ। हाथरस में दलित बच्ची के साथ हुई दरिंदगी पर बलिया के बैरिया से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने बेहद शर्मनाक बयान दिया है। सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि रेप की घटनाएं तभी रुक सकती हैं, जब मां-बाप अपने बेटियों को अच्छे संस्कार देंगे। सुरेंद्र सिंह का कहना है कि शासन और तलवार के जोर से बलात्कार की घटनाओं को नहीं रोका जा सकता है। बीजेपी नेता के वायरल हो रहे इस बयान की सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचना हो रही है।

वायरल हो रहे वीडियो में एक पत्रकार ने सुरेंद्र सिंह से पूछा कि कहा जाता है यहां रामराज्य चल रहा है। इस रामराज्य में आए दिन रेप जैसी घटनाएं क्यों हो रही है? इसका क्या कारण है? जवाब में सुरेंद्र सिंह ने कहा, 'मैं विधायक के साथ एक शिक्षक हूं। ये घटनाएं संस्कार से ही रुक सकती हैं। शासन और तलवार से रुकने वाली नहीं हैं। सभी माता-पिता का धर्म है कि अपनी बेटी को एक संस्कारिक वातावरण में रहने, चलने और शालीन व्यवहार प्रस्तुत करने का तरीका सिखाएं।'

बीजेपी विधायक के इस बयान की चौतरफा आलोचना हो रही है। राजनीतिक दलों के अलावा पत्रकार और बॉलीवुड से जुड़े लोग भी इस बयान से बेहद खफा हैं। बॉलीवुड अभिनेत्री कृति सेनन ने इसपर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा, 'बेटियों को सिखाएं रेप कैसे नहीं होने देना है? क्या उन्होंने खुद को बात करते सुना है? यह वह मानसिकता, जिसे बदलने की जरूरत है. वह अपने बेटों को संस्कार क्यों नहीं दे सकते?'

इस मामले में मशहूर कवि कुमार विश्वास का भी गुस्सा देखने को मिला है। उन्होंने इसे कुतर्क भरी सोच और नीचता बताया है। विश्वास ने ट्वीट करके कहा, 'बड़े से बड़ा पार्टी भक्त इन विधायक जी की जहालत को जस्टिफ़ाई कर के बताए ?कुतर्कों की और सोच की नीचता कहाँ तक है,पता तो चले ?यानी जिन बच्चियों के साथ दुष्कृत्य हुआ उनके परिवार वालों ने बच्चियों को अच्छे संस्कार नहीं दिए ? यह बयान सुनकर आपके मन में पहला विचार क्या आया? सच बताना।'

 

 

पत्रकार रोहिणी सिंह ने बीजेपी विधायक के इस बयान पर उन्हें चुल्लू भर पानी में डूब मरने को कहा है। वहीं पूर्व आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने कहा है कि हाथरस के इस घटना के पीछे यही रूढ़िवादी, शर्मनाक सोच जिम्मेदार है।