धर्म संसद से जुड़ा सवाल पूछने पर भड़के यूपी के डिप्टी सीएम, रिपोर्टर से की बदसलूकी जबरन डिलीट कराया वीडियो

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से बीबीसी के रिपोर्टर ने धर्म संसद में हेट स्पीच से जुड़ा सवाल पूछ दिया, जिसके बाद भाजपा नेता ने रिपोर्टर के चेहरे से मास्क खींचकर पूरा वीडियो जबरन डिलीट करा दिया

Updated: Jan 11, 2022, 02:08 PM IST

धर्म संसद से जुड़ा सवाल पूछने पर भड़के यूपी के डिप्टी सीएम, रिपोर्टर से की बदसलूकी जबरन डिलीट कराया वीडियो
Photo Courtesy: BBC

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में चुनावी सरगर्मी के बीच सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का इंटरव्यू चर्चा का विषय बन गया है। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य से इंटरव्यू के दौरान जब एक रिपोर्टर ने धर्म संसद में हेट स्पीच से जुड़ा सवाल पूछा तब केशव प्रसाद मौर्य भड़क गए। इतना ही नहीं भाजपा नेता ने रिपोर्टर से बदसलूकी भी की और वीडियो भी जबरन डिलीट करवा दिया। हालांकि बाद में वीडियो को रिकवर कर लिया गया। 

दरअसल केशव प्रसाद मौर्य बीबीसी के एक रिपोर्टर को साक्षात्कार दे रहे थे। इसी दौरान रिपोर्टर ने धर्म संसद में दी गई हेट स्पीच और उसको लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ और पूरी बीजेपी की चुप्पी का सवाल उठा दिया। रिपोर्टर ने कहा कि ऐसे बयानों पर सीएम योगी आदित्यनाथ की चुप्पी से हिंसा बढ़ाने वाले बयान देने वाले लोगों को और बढ़ावा मिलता है। सीएम योगी आदित्यनाथ खुद इस बात को लेकर जनता को आश्वस्त क्यों नहीं करते कि आप किसी विशेष धर्म के खिलाफ नहीं हैं? 

धर्म संसद से जुड़ा सवाल पूछे जाने पर केशव प्रसाद मौर्य असहज हो गए और रिपोर्टर से राजनीति से जुड़ा सवाल पूछने के लिए कहने लगे। बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि भाजपा को किसी तरह का प्रमाण देने की आवश्यकता नहीं है। हमारा एजेंडा ही सबका साथ सबका विकास का है। डिप्टी सीएम ने कहा कि कोई धर्म आचार्य अपने मंच से क्या बोलता है, इसका भाजपा से कोई सरोकार नहीं है। हालांकि इसके ठीक बाद केशव प्रसाद मौर्य ने उल्टा रिपोर्टर से अन्य धर्मों के आचार्यों को बात करने की सलाह भी दे डाली।

यह भी पढ़ें : लोकार्पण कार्यक्रम में नहीं भेजा गया साध्वी प्रज्ञा को बुलावा, उच्च शिक्षा मंत्री को टालना पड़ा कार्यक्रम

इतने पर जब रिपोर्टर ने यति नरसिंहानंद और अन्नपूर्णा के उत्तर प्रदेश(क्रमशः गाजियाबाद और अलीगढ़) से ताल्लुक होने का हवाला देकर कार्रवाई न किए जाने का सवाल खड़ा किया और भारत पाकिस्तान मैच के बाद लोगों पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किए जाने का हवाला दिया। तभी केशव प्रसाद मौर्य रिपोर्टर पर भड़क गए। डिप्टी सीएम ने इंटरव्यू बीच में ही छोड़ दिया और रिपोर्टर का मास्क खींच लिया। इसके बाद केशव प्रसाद मौर्य ने रिपोर्टर से जबरन वीडियो भी डिलीट करवा दिया। 

यह भी पढ़ें : MP में एक दिन में कोरोना के 2300 से अधिक मामले, 22 वर्षीय युवती की हुई मौत

हालांकि बीबीसी ने डिलीट किए गए वीडियो को रिकवर करने में कामयाबी हासिल कर ली। इसके बाद अपनी पूरी रिपोर्ट में इंटरव्यू प्रकाशित कर दिया। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। हालांकि बीबीसी ने अपनी रिपोर्ट में यह बताया है कि खुद केशव प्रसाद मौर्य ने इस पूरी घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।