लखीमपुर नरसंहार मामले में मंत्री पुत्र आशीष मिश्रा उर्फ मोनू भैया को पुलिस ने किया गिरफ्तार

लखीमपुर खीरी में किसानों को गाड़ी से रौंदने के मामले में मुख्य आरोपी है आशीष मिश्रा, 6 घंटे पूछताछ के बाद क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार करने का फैसला

Updated: Oct 09, 2021, 05:18 PM IST

लखीमपुर नरसंहार मामले में मंत्री पुत्र आशीष मिश्रा उर्फ मोनू भैया को पुलिस ने किया गिरफ्तार

लखीमपुर खीरी। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी से बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां क्राइम ब्रांच ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा उर्फ मोनू भैया को गिरफ्तार कर लिया है। यूपी पुलिस ने आशीष मिश्रा से करीब 6 घंटे पूछताछ के बाद गिरफ्तारी का फैसला लिया है। हालांकि, पुलिस की ओर से इस बारे में अभी आधिकारिक बयान सामने आना बाकी है।

सूत्रों के मुताबिक पुलिस अधिकारियों ने गिरफ्तारी से पहले सीएम ऑफिस से ग्रीन सिग्नल लिया। जानकारी के मुताबिक आशीष मिश्रा ने पूछताछ के दौरान क्राइम ब्रांच को अपनी बेगुनाही के जो सबूत दिए पुलिस उससे संतुष्ट नहीं थी। पुलिस ने मिश्रा का मोबाइल फोन भी जब्त कर लिया है। इसके पहले पुलिस उसके निजी ड्राइवर को हिरासत में ले चुकी है। बता दें कि कल ही सुप्रीम कोर्ट ने प्रदेश सरकार को फटकार लगाते हुए पूछा था कि हत्या के आरोपी को अबतक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें: पीएम मोदी से मुलाकात को झुनझुनवाला ने बताया सुहागरात, लोग बोले- दलाल से मिलकर गिराई पीएम पद की गरिमा

बता दें कि आशीष मिश्रा पर आरोप है कि बीते दिनों उसने शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रहे किसानों को जानबूझकर गाड़ियों से रौंदा। हालांकि आरोपी मिश्रा और उसके पिता व केंद्रीय मंत्री टेनी लगातार ये कहते रहे हैं कि वो निर्दोष है। लेकिन घटनास्थल से जो वीडियो फुटेज सामने आए हैं, वो सुनियोजित हत्या की घटना की ओर इशारा करते हैं। बहरहाल अब देखना ये होगा कि न्यायालय इस मामले में क्या आदेश देती है।