एक बार फिर हिमाचल प्रदेश में लैंडस्लाइड, शिमला-किन्नौर मार्ग पर भरभरा कर गिरा पहाड़

हिमाचल के ज्यूरी इलाके में दरका पहाड़, शिमला-किन्नौर मार्ग पर हुआ बाधित, किसी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं, अगस्त में हुए लैंड स्लाइड में गई थी 25 लोगों की जान

Updated: Sep 06, 2021, 02:20 PM IST

एक बार फिर हिमाचल प्रदेश में लैंडस्लाइड, शिमला-किन्नौर मार्ग पर भरभरा कर गिरा पहाड़
Photo Courtesy: twitter

शिमला। हिमाचल प्रदेश के नेशनल हाईवे 5 पर सोमवार सुबह लैंड स्लाइड हुई। ज्योरी में भूस्खलन की वजह से शिमला-किन्नौर मार्ग बाधित हो गया। गनीमत रही की पहले पहाड़ पर से केवल रेत और मिट्टी जैसी चीजें गिर रही थी। जिसे देखते ही दोनों तरफ का ट्रेफिक ऐहतियात के तौर पर रोक दिया गया। थोड़ी ही देर में लैंड स्लाइड वाले स्थान पर पहाड़ के टुकड़े और बड़े-बड़े पत्थर गिरने लगे जो कि चारों तरफ फैल गए। मार्ग पर धुंध सी छा गई। लैंड स्लाइड की वजह से बड़ी मात्रा में मलबा सड़क पर फैल गया है। स्थानीय प्रशासन का कहना है कि इसे हटाने में कई घंटों का समय लगेगा। मंगलवार सुबह आवागमन सामान्य होने की बात कही जा रही है। पुलिस द्वारा यात्रियों को वैकल्पिक मार्ग के उपयोग की सलाह दी जा रही है। 

 

दरअसल पहाड़ी इलाके में भारी बारिश का दौर रुक-रुक कर जारी है, जिसकी वजह से यहां लैंड स्लाइड की घटना हुई। हिमाचल के जिस स्थान पर लैंड स्लाइड हुआ वह रामपुर उपमंडल के ज्यूरी के पास स्थित है। लैंडस्लाइड की वजह से NH 5 मार्ग पूरी तरह बाधित हो गया है।

प्रत्यक्षदर्शियों ने इस घटना का वीडियो भी बनाया है जो कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लैंडस्लाइड के दौरान वहां पर कई लोग मौजूद थे जिन्होंने किसी कदर भाग कर अपनी जान बचाई। फिलहाल एहतियात के तौर पर दोनों ओऱ से ट्रैफिक रोक दिया गया है। जिसकी वजह से बड़ा हादसा होने से टल गया। स्थानीय प्रशासन मार्ग से मलबा हटाने में जुटा है। लोगों को यहां से दूर रहने की सलाह दी जा रही हैं।

दरअसल यह दूसरा मौका है जब इस मार्ग पर लैंड स्लाइड है। इससे पहले 11 अगस्त को लैंड स्लाइड की चपेट में कई वाहन और बस आ गए थे। बस खाई में गिर गई थी, उस हादसे में करीब 25 लोगों की मौत हो गई थी। कई बस सवार यात्रियों के शव बड़ी मशक्कत के बाद निकाला जा सका था।  हिमाचल प्रदेश में बारिश कहर बन कर टूटी है। 28 अगस्त को देहरादून ऋषिकेश का पुल टूट गया था।