नंदीग्राम में वोटिंग के बीच फांसी से लटका मिला BJP कार्यकर्ता का शव, TMC पर हत्या का आरोप

टीएमसी बोली अपने कार्यकर्ता की दुखद मौत पर राजनीति कर रही बीजेपी, पारिवारिक संकट की वजह से खुदकुशी का आशंका, इलाके में तनाव

Publish: Apr 01, 2021, 12:03 PM IST

नंदीग्राम में वोटिंग के बीच फांसी से लटका मिला BJP कार्यकर्ता का शव, TMC पर हत्या का आरोप
Photo Courtesy: TOI

नंदीग्राम। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के बीच हाईप्रोफाइल सीट नंदीग्राम में बीजेपी कार्यकर्ता का शव मिलने से तनाव बढ़ गया है। बताया जा रहा है कि बीजेपी कार्यकर्ता का शव अपने ही घर में फांसी से लटका मिला है। बीजेपी ने इस मामले को राजनीतिक रंग देते हुए टीएमसी पर हत्या का आरोप लगाया है। वहीं, टीएमसी ने कहा है कि यह दुखद है कि बीजेपी अपने ही कार्यकर्ता की मौत पर राजनीति कर रही है।

पुलिस ने बताया कि बीजेपी वर्कर उदयशंकर दुबे का शव नंदीग्राम के भेकुटिया में उसके घर पर फांसी के फंदे से लटका मिला। मामले पर बीजेपी के बयान बंटे हुए हैं। कुछ बीजेपी नेताओं का कहना है कि वह टीएमसी की ओर से मिल रही धमकियों के चलते तनाव में था और इसी वजह से उसने आत्महत्या कर ली। वहीं कुछ बीजेपी नेताओं ने आरोप लगाया है कि उदय को टीएमसी के लोगों ने ही मारकर फांसी पर लटकाया है। 

हालांकि टीएमसी ने इन आरोपों को सिरे से खारिज किया है। टीएमसी ने कहा है कि यह दुखद है कि बीजेपी अपने ही कार्यकर्ता की मौत का राजनीतिक लाभ लेना चाहती है। वहीं, एक सीनियर टीएमसी नेता ने दावा किया कि पारिवारिक संकट के चलते उदयशंकर ने खुदकुशी की है। पुलिस ने इस मामले में अप्राकृतिक मौत का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने कहा कि मौत का असली कारण पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आने के बाद ही पता चल सकेगा।

बीजेपी का कहना है कि 30 मार्च को मृतक मिथुन चक्रवर्ती के रोड शो में शामिल हुआ था, जिसके बाद टीएमसी के वर्कर्स की ओर से धमकियां दी जा रही थीं।नंदीग्राम में चुनाव के दिन हुए इस घटना ने इलाके में तनाव बढ़ा दिया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए उदयशंकर के घर के पास केंद्रीय बलों की तैनाती की गई है ताकि कानून-व्यवस्था बनी रहे और किसी तरह के उपद्रव की आशंका को टाला जा सके। 

बता दें कि पश्चिम बंगाल की 30 सीटों के लिए आज मतदान हो रहा है, जिसमें नंदीग्राम भी शामिल है। नंदीग्राम सीट से ही सीएम ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं, जबकि बीजेपी ने उनके करीबी रहे शुभेंदु अधिकारी को ही उनके मुकाबले समर में उतारा है।